Guest Corner RSS Feed
भारतवर्ष के यह स्वयंभू गुरु Misc

Nirmal Rani

कहा जाता है कि हमारा देश किसी युग में विश्वगुरु था। ऐसा कब था तथा भारत रूपी इस विश्वगुरु के कौन-कौन से शिष्य थे यह बातें न तो पता हैं, न ही इसकी गहराई में जाने और जानने से कुछ हासिल होने वाला है।

'सांस्कृतिक राष्ट्रवादी' बंगारू लक्ष्मण ने बनाया कीर्तिमान Misc

Tanveer Zafri

हमारे देश के तमाम 'रहबरों' का भ्रष्टाचार, रिश्वतखोरी तथा अन्य छोटे-बड़े अपराधों में जेल जाना कोई नई बात नहीं है। भारतवर्ष में जहां अनेक केंद्रीय मंत्री,मु यमंत्री, केंद्र व राज्य सरकार के मंत्री, सांसद, विधायक तथा तमाम बड़े-छोटे अधिकारी जेल जाते रहे हैं।

सौ बरस का सिनेमा और कुछ खास फिल्में Misc

Punya Prasun Bajpai

सौ बरस के सिनेमा को कहीं से भी शुरु तो कर सकते हैं लेकिन यह खत्म नहीं हो सकता। क्योंकि सिनेमा का मतलब अब चाहे बाजार और मुनाफा हो लेकिन इसकी शुरुआत परिवार और समाज से होती है। जहां सिनेमायी पर्दें का हर चरित्र हर घर और समाज के भीतर का हिस्सा होता। इसलिये घर की चारदीवारी और समाजिक सरोकार इतर जैसे ही भारतीय सिनेमा धंधे की रफ्तार पकड़ता है तो सिनेमा के उस स्वर्ण दौर को जीने की इच्छा या कहें डूबने की चाहत बढ़ती जाती है।

प्रति व्यक्ति आइटम गर्ल ज़रुरी(व्यंग्य) Misc

Piyush Pandey

कुछ लोगों का सबसे प्रिय काम होता है हल्ला मचाना। कुछ तो हल्ला में गुल्ला जोड़कर ऐसा मारक किस्म का हल्ला गुल्ला मचाने में यकीं रखते हैं कि जब तक उनकी बात सुन न ली जाए वे बजते रहते हैं। तो कुछ भाई आजकल इसी तरह बज रहे हैं सन्नी लियोन को भारतीय नागरिकता मिलने की ख़बर सुनकर।

अन्ना, रामदेव और टीम अन्ना Misc

Punya Prasun Bajpai

रामदेव ने दस्तक देकर दरवाजा खोला और अन्ना टीम दोराहे पर आ खड़ी हुई। यह दोराहा सड़क का नहीं बल्कि सत्ता के लिये प्यादा बनने और खुद को वजीर बनाने का । दोराहे की प्यादे वाली एक राह में से भी तीन राह निकली। और रामदेव की दस्तक से पहले जो अन्ना टीम एकजुट नजर आ रही थी, असल में एकजुटता के दौर में भी हां हर कोई आंदोलन को लेकर खुद के लिये परिभाषा लगातार गढ़ रहा था।

दिल्ली नतीजों के फलितार्थ Misc

Alok Kumar

दिल्ली नगर निगम के चुनाव नतीजे कांग्रेस को यह बताने के लिए काफी हैं कि उसे एकसाथ दो सत्ताविरोधी लहर का का सामना करना पड़ा। एक तो केंद्र की मनमोहन सिंह सरकार के खिलाफ बने माहौल ने दिल्ली नगर निगम में बीजेपी के भ्रष्टाचार की पोल खुलने से बचा ली और दूसरा याद दिला दी कि शीला दीक्षित सरकार पर राष्ट्रमंडल खेल के दौरान लगे आरोप मतदाताओं के जेहन में आज भी चस्पां हैं

'अध्यात्मवाद' की आंधी और बेकाबू भ्रष्टाचार? Misc

Nirmal Rani

वैज्ञानिकों ने वैसे तो विज्ञान, तकनीक तथा सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में इसी उद्देश्य को लेकर तमाम उपलब्धियां हासिल की हैं ताकि मानव जाति का विकास हो तथा उसका ज्ञानवर्धन हो सके।

नेत्री बनाऊ कोर्स (व्यंग्य) Misc

Piyush Pandey

नेता परम होते हैं। निसंदेह। किंतु नेत्री ! उनके बारे में यह कहना अभी ठीक नहीं। नेत्री हैं ही कितनी? सौ-दो सौ लोग मिल जाए तो आराम से उंगलियों पे गिन लें। नेत्री कुछ कुछ 'एक्सक्लूसिव' ख़बर सी हैं, जो आसानी से नहीं मिलती। लेकिन, अब लगता है कि नेत्रियों का टोटा भी दूर होने वाला है। हर गली, हर मुहल्ले और हर बड़े

इंटरनेट की बढ़ती लत के बीच Misc

Piyush Pandey

भारत की महानगरीय आबादी क्या इंटरनेट की लत का शिकार हो रही है? विभिन्न संस्थाओं और अलग अलग कंपनियों की तरफ से लगातार आ रहे सर्वेक्षणों के नतीजे इसी तरफ इशारा कर रहे हैं। कंप्यूटर एंटीवायरस बनाने वाली प्रमुख कंपनी नॉरटन के ताजा सर्वे के मुताबिक भारत में नेट उपयोक्ता रोज़ाना आठ घंटे

वीर सांघवी से मुलाकात Misc

Manoj Bajpayee

सोमवार शाम को काम से फुर्सत पाने के बाद हिन्दुस्तान टाइम्स के ब्रंच मैग्जीन द्वारा आयोजित एक समारोह में शामिल होने का अवसर मिला। यहां मेरी अगली फिल्म ‘शूट आउट एट वडाला’ के मेरे सहभागी कलाकार जॉन अब्राहम और कंगना रानावत के साथ मंच पर वीर सांघवी संग बातचीत शामिल थी।

ज्योतिष लेख