Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

पॉस्को परियोजना के खिलाफ ग्रामीणों के समर्थन में अग्निवेश

swami-agnivesh-with-anti-posco-06201118g

18 जून 2011

भुवनेश्वर। ओडिशा के जगतसिंहपुर जिले में 12 अरब डॉलर की पॉस्को परियोजना के लिए जमीन अधिग्रहण का विरोध करते हुए सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश ने शनिवार को कहा कि वह इस मामले को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ उठाएंगे।

जगतसिंहपुर जिले में परियोजना स्थल पर ग्रामीणों के साथ शुक्रवार की रात बिताने वाले अग्निवेश ने कहा कि वह मनमोहन सिंह और केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री जयराम रमेश से मिलेंगे।

उन्होंने कहा कि वह प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्री से अनुरोध करेंगे कि एक बुहराष्ट्रीय कम्पनी के लिए एक कृषि आधारित अर्थव्यवस्था को उजाड़ने की अनुमति न दी जाए।

ग्रामीणों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करते हुए अग्निवेश गोविंदपुर गांव में परियोजना के खिलाफ ग्रामीणों के प्रदर्शन में भी शामिल हुए।

गांव में हजारों लोगों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को यह अधिकार नहीं है कि वह कई पीढ़ियों से इस जमीन से अपनी आजीविका चलाने वाले परिवारों से जबरन उनकी जमीन छीन ले।

उन्होंने कहा, "मैं आश्चर्यचकित हूं कि सरकार एक इस्पात संयंत्र के लिए एक अच्छी तरह विकसित कृषि अर्थव्यवस्था को समाप्त करने की कोशिश कर रही है।"

ज्ञात हो कि दक्षिण कोरियाई कम्पनी पॉस्को की योजना 1.2 करोड़ टन की क्षमता वाले एक इस्पात संयंत्र के निर्माण करने की है। यह किसी विदेशी कम्पनी द्वारा भारत में किया जाने वाला सबसे बड़ा निवेश है।

परियोजना के लिए कम्पनी को 4004 एकड़ भूमि की जरूरत है जिसमें से वह 2900 एकड़ वन भूमि का अधिग्रहण कर चुकी है। स्थानीय प्रशासन का कहना है कि कम्पनी परियोजना के लिए जरूरी भूमि का करीब आधा जमीन पहले ही अधिग्रहीत कर चुकी है।

अतिरिक्त जिलाधिकारी एस. के. चौधरी ने कहा, "हमने बारिश के कारण एक बार फिर जमीन अधिग्रहण का काम रोक दिया है।" उन्होंने कहा कि अगर मौसम ठीक रहा तो अधिग्रहण की प्रक्रिया सोमवार को शुरू हो सकती है।

 

 

More from: Khabar
21834

ज्योतिष लेख