Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

सत्य साईं के भक्‍त अपार, अंतिम दर्शन में बही अश्रुधार

shri-satya-sai-death

26 अप्रैल 2011

पुट्टापर्थी (आंध्र प्रदेश)। अध्यात्मिक गुरु सत्य साईं बाबा के अंतिम दर्शन के लिए दक्षिणी आंध्र प्रदेश के धार्मिक शहर पुट्टापर्थी में सोमवार को जनसैलाब उमड़ पड़ा। हजारों भक्तों ने नम आखों से बाबा को श्रद्धांजलि दी जिनमें भारतीय क्रिकेट टीम के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर एवं सुनील गावस्कर जैसी नामचीन हस्तियां भी शामिल रहीं। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी मंगलवार शाम पुट्टापर्थी पहुंचेंगे।

सत्य साईं बाबा के आश्रम 'प्रशांति निलयम' के श्री कुलवंत हॉल में बाबा के पार्थिव शरीर को भगवा वस्त्र में लपेटकर वातानुकूलित शीशे की मंजूषा में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। पारदर्शी मंजूषा के चारों ओर फूलों का अम्बार लगा हुआ है। देश और विदेश के हजारों लोग बाबा के अंतिम दर्शन के लिए निलयम के बाहर कड़ी धूप में कतार में खड़े देखे गए। आश्रम के बाहर बड़ी संख्या में जुटे भक्तों की सर्पाकार पक्तियां देखी गईं। आश्रम में 24 घंटे के अंदर 150,000 श्रद्धालु बाबा का अंतिम दर्शन कर चुके हैं।

अधिकारियों के अनुसार बाबा का अंतिम संस्कार बुधवार सुबह प्रशांति निलयम में पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। मंगलवार शाम छह बजे तक ही लोग बाबा के अंतिम दर्शन कर पाएंगे। बाबा को श्रद्धांजलि देने वाले महत्वपूर्ण व्यक्तियों में तेंदुलकर के अलावा भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर, क्रिकेटर वी.वी.एस. लक्ष्मण, श्रीसंत, योग गुरु रामदेव एवं गायिका पी. सुशीला भी शामिल हैं।

तेंदुलकर, पत्नी अंजली और मित्र वी.चामुंडेश्वरनाथ के साथ हैदराबाद से बाबा को श्रद्धांजलि देने पहुंचे। वह सत्य साईं बाबा के पार्थिव शरीर के पास बैठे थे। बाबा के अनन्य भक्त रहे सचिन की आंखों से प्रार्थना के दौरान आंसू छलक आए। सचिन पत्नी से रूमाल लेकर अपने आंसू पोंछते नजर आए। उन्होंने सत्य साईं सेंट्रल ट्रस्ट के एक अधिकारी से भी बातचीत की। सचिन रविवार को ही 38 वर्ष के हुए थे। बाबा के निधन से दुखी सचिन ने अपना जन्मदिन समारोह भी नहीं मनाया था।

आंध्र प्रदेश की भारी उद्योग मंत्री जे.गीता रेडड्ी ने बताया कि सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह अपराह्न् 4.30 बजे पुट्टापर्थी पहुंचेंगे। रेड्डी ने कहा कि श्रद्धालुओं को मंगलवार शाम छह बजे तक बाबा के दर्शन की अनुमति होगी। राज्य के राजस्व मंत्री रघुवीर रेड्डी ने कहा कि अब तक 100,000 श्रद्धालु बाबा का अंतिम दर्शन कर चुके हैं। इस बीच केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल एवं विलास राव देशमुख, अभिनेता रितेश देशमुख, तुलुगू फिल्म अभिनेत्री अंजलि देवी ने भी बाबा को श्रद्धासुमन अर्पित किए।

उधर, मलेशिया की राजधानी कुआलालम्पुर में स्थित साईं बाबा केंद्र में श्रद्धांजलि देने के लिए 200 से अधिक लोग जमा हुए। श्री सत्य साईं सेंट्रल काउंसिल ऑफ मलेशिया के अध्यक्ष सुरेश गोविंद ने रविवार को बंगसार इलाके में स्थित केंद्र में कहा, "आज रात हमारी उपस्थिति सामान्य से लगभग दोगुनी होगी। हम बाबा के निधन पर शोक मनाएंगे, जैसा कि हम किसी करीबी पारिवारिक सदस्य के लिए करते हैं।"

चीनी नागरिक भी बाबा के भक्तों में शामिल हैं। लिम माई ली (35) बंगसार केंद्र में बाबा को अपनी श्रद्धांजलि देने आई थीं। भक्तों की सुविधा के लिए आंध्र प्रदेश के विभिन्न हिस्सों तथा बेंगलुरू और चेन्नई शहरों से सत्य साईं बाबा के भक्तों के लिए पुट्टापर्थी तक छह विशेष रेलगाड़ियों से सहित भारी संख्या में बसें चलाई जा रही हैं। एक अधिकारी ने बताया कि सिकंदराबाद, विजयवाड़ा और बेंगलुरू से सोमवार और मंगलवार को छह रेलगाड़ियां चलाई जाएंगी।

सत्य साईं बाबा का अंतिम संस्कार होने के बाद बुधवार को श्री सत्य साईं केंद्रीय न्यास की बैठक होगी, जिसमें कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाएंगे। बाबा के निधन से उनके 40,000 करोड़ रुपये कीमत के साम्राज्य पर सवाल उठ खड़ा हुआ है। साईं बाबा के निधन के बाद अब न्यास यह तय करेगा कि इसकी गतिविधियों को कैसे आगे बढ़ाया जाए और इसका नेतृत्व किसे करना चाहिए, क्योंकि बाबा ने प्रत्यक्ष तौर पर किसी को भी अपना उत्तराधिकारी नहीं नामित किया है। उल्लेखनीय है कि साईं बाबा का लम्बी बीमारी के बाद रविवार सुबह निधन हो गया था। वह 85 वर्ष के थे।

More from: Khabar
20293

ज्योतिष लेख