Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

तेलंगाना आंदोलन में रेल रोको अभियान

telangana agitaion rail stopped

15 अक्टूबर 2011

हैदराबाद। आंध्र प्रदेश में पृथक तेलगांना राज्य की मांग को लेकर आंदोलनरत तेलंगाना समर्थकों का तीन दिवसीय रेल रोको अभियान शनिवार को शुरू हो गया। इस दौरान पुलिस ने कई जगहों पर सैकड़ों प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया।

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की सांस्कृतिक इकाई तेलंगाना जागृति की नेता के. कविता को पुलिस ने रेलवे अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर हैदराबाद के माउला अली के निकट रेलमार्ग को अवरुद्ध कर दिया था।

टीआरएस प्रमुख के. चंद्रशेखर राव की बेटी कविता को पुलिस गिरफ्तार कर केसारा पुलिस थाने ले गई।

राव के बेटे और विधायक के. ताराका रामा राव को भी तेलंगाना राष्ट्र समिति (जेएसी) के अन्य नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ सिकंदराबाद में सिताफलमंडी से गिरफ्तार कर लिया गया। ये लोग रेल रोको अभियान में हिस्सा लेने जा रहे थे।

टीआरएस नेताओं ने सरकार को चेतावनी दी है कि आंदोलन में भाग लेने वाले लोगों के खिलाफ यदि पुलिस कार्रवाई की गई तो इसके गम्भीर परिणाम भुगतने होंगे।

इस बीच सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी की सांसद पूनम प्रभाकर, जी. विवेक और राजैया को भी वारंगल और करीमनगर जिलों से गिरफ्तार कर लिया गया।

इसके अलावा कई नेताओं और विधायकों को या तो नजरबंद कर दिया गया है या फिर रेल रोको आंदोलन में हिस्सा लेने से पहले ही हिरासत में ले लिया गया।

हैदराबाद सहित तेलंगाना के 10 जिलों में ये गिरफ्तारियां की गई। केवल महबूबनगर जिले से ही 100 से अधिक प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया।

तीन दिनों के रेल रोको अभियान को देखते हुए रेलवे की ओर से पहले ही 126 रेलगाड़ियां स्थगित कर दी गई हैं। रेलवे ने हालांकि कुछ रेलगाड़ियों को समय पर चलाने का निर्णय लिया है।

राज्य पुलिस और रेलवे ने प्रदर्शनकारियों को आगाह करते हुए कहा है कि रेलगाड़ियों को रोकने पर उन्हें रेलवे अधिनयम के तहत गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

राज्य के पुलिस महानिदेशक दिनेश रेड्डी ने कहा है कि रेलवे अधिनियम के तहत की गई गिरफ्तारी में उम्रकैद की सजा भी हो सकती है।

More from: Khabar
25847

ज्योतिष लेख