Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

गरीबी रेखा की नई परिभाषा गरीबों का मजाक : रमन

new definition of poverty line is a mockery to the poor people

23 मार्च 2012
 
रायपुर |  छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने शुक्रवार को योजना आयोग की गरीबी रेखा की नई परिभाषा को 'गरीबों का मजाक' करार दिया। जब मीडियाकर्मियों ने रमन से गरीबी रेखा की नई विवादास्पद परिभाषा के विषय में पूछा तो सिंह ने कहा, "जिन लोगों ने गरीबी रेखा की परिभाषा तैयार की है उन्हें गांवों व गरीबों के आधारभूत मुद्दों की समझ नहीं है। वास्तव में नई परिभाषा गरीबों का मजाक है।"

योजना आयोग की नई परिभाषा के चलते केंद्र सरकार को संसद में व संसद के बाहर कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। आयोग की नई परिभाषा के मुताबिक शहरी क्षेत्र में 28 रुपये प्रति दिन व ग्रामीण क्षेत्र में 22.50 रुपये प्रति दिन के खर्च पर जीवनयापन करने वाले लोग ही गरीब हैं।

More from: Khabar
30004

ज्योतिष लेख