Get free astrology & horoscope 2013
Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

उप्र में पंचायत ने सुनाया अनोखा फरमान

narrated the unique sense up panchayat

12 जुलाई 2012

लखनऊ।  पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में एक पंचायत ने छेड़खानी की घटनाओं को रोकने के लिए अनोखा तुगलकी फरमान सुनाते हुए कहा कि गांव की 40 साल तक की कोई महिलाएं व युवतियां बाजार नहीं जाएंगी।

बागपत के आसरा गांव में लगाई गई इस पंचायत में मुस्लिम बिरादरी के कई लोग शामिल हुए थे और महिलाओं की आजादी को कैद करने का यह अनोखा फरमान सुना दिया गया।

पंचायत ने कहा कि गांव के बाहर लगने वाले बाजार में 40 साल उम्र तक की कोई महिला नहीं जाएगी। साथ ही इस उम्र तक की महिलाएं गांव या उससे बाहर मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करेंगी।

पंचायत ने साफ किया अगर इस फरमानों का किसी ने उल्लंघन किया तो फिर पंचायत लगाई जाएगी और उसमें उसकी सजा तय की जाएगी।

गांव में रहने वाले 43 वर्षीय मोहम्मद रईस ने संवाददाताओं को बताया कि आए दिन युवितयों और महिलाओं के साथ बाजार में हो रही छेड़खानी की घटनाओं के मद्देनजर बुधवार शाम लगी पंचायत में यह फैसला लिया गया।

हैरानी की बात यह रही समाज के इन कथित रहनुमाओं ने छेड़खानी करने वालों को सजा देने को लेकर पंचायत में कोई फरमान नहीं जारी किया।


 

More from: Khabar
31788

मनोरंजन
जानें ऑडिशन में सफल होने के गुर

एक्टिंग में करियर बनाने वाले लोगों के लिए मनोज रमोला ने लिखी है एक किताब जिसका नाम है ऑडिशन रूम। इस किताब में लिखे हैं ऑडिशन में सफल होने के सभी गुर।

ज्योतिष लेख
इंटरव्यू
मेरा अलग 'लुक' भी मेरी पहचान है : इमरान हसनी

हिन्दी सिनेमा में चरित्र अभिनेताओं के संघर्ष की राह आसान नहीं होती। इन्हीं रास्तों में से गुज़र रहे हैं इमरान हसनी। 'पान सिंह तोमर' में इरफान खान के बड़े भाई की भूमिका निभाकर चर्चा में आए इमरान हसनी अब इंडस्ट्री में नयी पहचान गढ़ रहे हैं। यूं कशिश व रिश्तों की डोर जैसे सीरियल और ए माइटी हार्ट जैसी अंतरराष्ट्रीय फिल्में उनके झोले में पहले ही थीं। एक ज़माने में सॉफ्टवेयर इंजीनियर रहे इमरान से अभिनय के शौक व उनकी चुनौतियों के बारे में बात की गौरी पालीवाल ने।

बॉलीवुड एस्ट्रो
बोलता कैलेंडर: तारीख़, समय, मुहूर्त को बोलकर बताता है यह ऐप

बोलता कैलेंडरबोलेगा आज की तारीख़, समय, दिन, राहुकाल, अभिजीत मुहूर्त, तिथि, नक्षत्र, योगा, करण, पंचक, भद्रा, होरा और चौघड़िया साल 2019 के लिए।