Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

मुंबई हमले में अमेरिका में चार लोगों पर आरोप दर्ज

mumbai-attack-26-11

26 अप्रैल 2011

शिकागो। अमेरिका के संघीय अभियोजकों ने नवम्बर 2008 में मुम्बई हमले की साजिश रचने के आरोपी पाकिस्तानी मूल के कनाडाई नागरिक तहव्वुर हुसैन राणा की मदद करने के आरोप में लश्कर ए-तैयबा से जुड़े चार आतंकियों पर मामला दर्ज किया है। सोमवार को शिकागो जिला अदालत में साजिद मीर, अबू काफा, मजहर इकबाल और मेजर इकबाल पर यह आरोप दर्ज किए गए। इन चारों पर भारत में हत्या का षड्यंत्र रचने का आरोप है साथ ही मीर, अबू काफा और मजहर इकबाल पर भारत में बम विस्फोट कराने का आरोप है।

इन पर भारत में अमेरिकी नागरिकों की हत्या में मदद करने और आतंकवादियों को उकसाने का आरोप है जिसके तहत इन्हें अधिकतम उम्र कैद की सजा मिल सकती है। राणा पर 16 मई से शुरू होने जा रही मुकदमे की सुनवाई के तीन सप्ताह पहले इन चार लोगों पर आरोप तय किए गए हैं। कनाडाई नागरिक राणा पर मुम्बई में आतंकी हमले की साजिश रचने के लिए पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक डेविड कोलमैन हेडली की मदद के लिए अपने आव्रजन सेवा कारोबार का इस्तेमाल करने का आरोप है।

हेडली ने मार्च 2010 में 12 आरोपों के तहत अपने अपराध स्वीकार कर लिए थे, जिसमें मुम्बई में अमेरिकी नागरिकों की हत्या के लिए उकसावे का आरोप शामिल है। 'वासी', 'इब्राहिम' और 'साजिद मजीद' के नाम से भी पहचाना जाने वाला मीर कथित रूप से 16 साल की उम्र में लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हुआ था और उसने दो साल तक हेडली के नियंत्रक के रूप में काम किया। नए आरोपों में कहा गया कि मुम्बई हमले के दौरान हमलावर टेलीफोन के जरिए पाकिस्तान में मौजूद साजिद मीर, अबू काफा और मजहर इकबाल के सम्पर्क में थे।

आरोप पत्र के मुताबिक खासकर हमले के आखिरी समय तक उन्होंने मुम्बई में मौजूद आतंकवादियों को बंधकों को मारने, आग लगाने और ग्रेनेड फेकने जैसे आदेश भी दिए। "साजिद मीर ने गिरफ्तार हुए एक आतंकवादी की रिहाई के बदले में एक बंधक को छोड़ने का बंदोबस्त करने के लिए भी कहा था।" इसके अलावा मीर पर हेडली के साथ मिलकर डेनमार्क के अखबार के दफ्तर पर भी आतंकवादी हमला करने की योजना बनाने का आरोप है। इस समाचार पत्र ने वर्ष 2005 में पैगम्बर मोहम्मद साहब का विवादित कार्टून प्रकाशित किया था।

More from: Khabar
20295

ज्योतिष लेख