Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

कन्नड़ हीरो दर्शन अदालत की नज़र में विलेन,नहीं मिली ज़मानत

darshan bail application rejected

22 सितंबर 2011

बैंगलुरू। कन्नड़ अभिनेता दर्शन को फिलहाल राहत मिलने के आसार नहीं मिल रहे हैं। कर्नाटक हाई कोर्ट ने दर्शन की जमानत याचिका पर सुनवाई गुरुवार को 2 सप्ताह के लिए टाल दी।

दर्शन पर अपनी पत्नी विजयालक्ष्मी के साथ मारपीट करने का आरोप है। सरकारी वकील चंद्रमौली ने कोर्ट से कहा कि उन्हें दर्शन द्वारा दायर जमानत याचिका पर अपनी आपत्तियां दर्ज कराने के लिए दो सप्ताह के समय की आवश्यकता है। कोर्ट ने उनका अनुरोध स्वीकार करते हुए सुनवाई दो सप्ताह के लिए स्थगित कर दी।
 
इससे पहले मंगलवार को भी दर्शन की ज़मानत याचिका को अदालत ने खारिज कर दिया था। दर्शन 9 सितंबर से ही न्यायिक हिरासत में हैं। उन पर अपनी पत्नी विजयलक्ष्मी से मार पीट करने का आरोप लगा है।

उनकी पत्नी विजयलक्ष्मी ने आरोप लगाया था कि दर्शन उनके साथ मार पीट करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया था कि दर्शन का अपनी को स्टार निकिता के साथ अनैतिक संबंध हैं। जिसके वजह से दर्शन का उनके प्रति व्यवहार खराब हुआ है।

12 सितंबर को तब उनकी पत्नी पारिवारिक दवाब में आकर दर्शन पर लगाये अपने सभी आरोपों को वापिस ले लिया था। उन्होंने अपने बयान में कहा कि उन्हें सिर में चोट बाथरूम में गिरने की वजह से आयी है। 14 सितंबर को दर्शन की ज़मानत याचिका पर सुनवाई हुई। लेकिन कोर्ट ने विजयलक्ष्मी के पलटे हुए बयान के बावजूद दर्शन को ज़मानत नहीं दिया।

इसके बाद 20 सिंतबर को एक बार फिर दर्शन की ज़मानत याचिका पर सुनवाई हुई। इस बार भी अदालत दर्शन को विलेन मानने से इंकार नहीं कर रही है।

गौरतलब है कि दर्शन की पत्नी के आरोपों पर गौर करते हुए कर्नाटक फ़िल्म निर्माता एसोसिएशन ने दर्शन की को स्टार निकिता पर तीन साल का  बैन भी लगा दिया था। लेकिन बाद में इसे घरेलु विवाद मानकर निकिता पर से बैन हटा लिया गया। निकिता और दर्शन कुछ फिल्मों में साथ कर चुके हैं।

More from: samanya
25223

ज्योतिष लेख