Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

हिमाचल में सरकारी हेलीकॉप्टर के दुरुपयोग पर विवाद

government-helicopter-dispute-in-himachal-pradesh-04201116

16 अप्रैल 2011

शिमला। हिमाचल प्रदेश में एक मंत्री द्वारा सरकारी हेलीकॉप्टर का दुरुपयोग किए जाने को लेकर विवाद पैदा हो गया है। मंत्री ने बर्फ से ढके केलांग कस्बे में एक सरकारी कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए अपनी बेटियों के साथ हेलीकॉप्टर में उड़ान भरी थी।

राज्य के ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री जयराम ठाकुर ने शनिवार को उस उड़ान के लिए भुगतान करने का भी प्रस्ताव दिया, लेकिन विपक्षी, कांग्रेस पार्टी ने इस मामले की जांच की मांग की है।

कांग्रेस ने कहा है कि हेलीकॉप्टर केलांग और लाहौल एवं स्पीति जिले में पास के इलाकों से बीमार एवं बुजुर्ग लोगों को ढोने के लिए है।

ठाकुर ने बताया कि उन्हें केलांग में शुक्रवार को हिमाचल दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेना था। उन्होंने कहा, "सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) ने मुझसे कहा कि चार सीटों वाले एक हेलीकॉप्टर का बंदोबस्त मेरे दौरे के लिए किया गया है। चूंकि मेरे साथ मेरा सरकारी स्टाफ नहीं था, लिहाजा मैंने अपनी दो बेटियों को अपने साथ ले लिया। स्थानीय विधायक राम लाल मरक डेय ने भी कुल्लू से केलांग तक मेरे साथ यात्रा की।"

ठाकुर ने कहा, "मैं सुबह 7.30 बजे केलांग पहुंचा और कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद दोपहर एक बजे कुल्लू लौट आया। मैं इस उड़ान का पूरा खर्च अदा करने को तैयार हूं।"

जीएडी के सचिव अजय भंडारी ने कहा कि विभाग मामले की छानबीन कर रहा है। उन्होंने कहा, "इस हेलीकॉप्टर का बंदोबस्त मंत्री के लिए ही किया गया था और बचाव अभियान से इसका कुछ भी लेना-देना नहीं है।"

भंडारी ने कहा कि लाहौल एवं स्पीति में 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक के लिए वायु सेना का 26 सीटों वाला एक हेलीकॉप्टर तैनात किया गया था, जिसने आपात स्थिति में लोगों को बचाने के लिए छह उड़ाने भरी थी।

More from: Khabar
20025

ज्योतिष लेख