Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

भंवरी का अन्य मंत्रियों के साथ भी था सम्बंध !

bhanwari devi controversy

6 नवंबर 2011

जोधपुर। देश की शीर्ष जांच एजेंसी केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने भंवरी देवी लापता मामले से जुड़े एक और सुराग का खुलासा किया है जिसमें निलम्बित मंत्री महिपाल मदेरणा के अलावा उसका सम्बंध राजस्थान के तीन अन्य मंत्रियों के साथ होने की आशंका जताई गई है।

सीबीआई को प्रतिमाह मात्र 8,000 रुपये वेतन पाने वाली नर्स भंवरी के पास से भारी मात्रा में धन हाथ लगा है। सीबीआई इस धन के स्रोतों की भी जांच कर रही है।

सूत्रों ने बताया कि नर्स भंवरी देवी का राजस्थान के तीन अन्य मंत्रियों और तीन वरिष्ठ अधिकारियों के साथ सम्बंध होने की सम्भावना है।

गौरतलब है कि भंवरी देवी एक सितम्बर से जोधपुर के बिलारा क्षेत्र से लापता है।

उसको गायब कराने का आरोप लगने के बाद मदेरणा को मंत्रिमंडल से 16 अक्टूबर को निलम्बित कर दिया गया था। मदेरणा पर आरोप है कि उसने ही भंवरी को गायब करवाया। बताया जाता है कि भंवरी ने कथित सीडी में उनके आपत्तिजनक हालत में होने के आधार पर ब्लैकमेल करना प्रारम्भ कर दिया था।

नाम जाहिर न करने की शर्त पर एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, "सीबीआई को पता चला है कि भंवरी का सम्बंध केवल मदेरणा के साथ ही नहीं, बल्कि राज्य के तीन और मंत्रियों तथा तीन भारतीय प्रशासनिक अधिकारियों (आईएएस) जैसे कुछ प्रमुख लोगों के साथ भी था।"

अधिकारी ने उन राजनेताओं और अधिकारियों के नामों का खुलासा करने से इंकार कर दिया।

सूत्रों ने बताया कि सीबीआई को हाल में भंवरी देवी अपहरण मामले के प्रमुख संदिग्ध सोहन लाल विश्नोई के मकान से एक सीडी मिली। सोहन लाल अभी पुलिस हिरासत में है।

अधिकारी ने बताया, "यह सम्भव है कि भंवरी सीडी के आधार पर न केवल मदेरणा, बल्कि कुछ अन्य लोगों को ब्लैकमेल कर रही थी।"

सीबीआई की एक टीम राज्य के अजमेर शहर में बैंक लॉकर की तलाशी कर रही है। टीम को उम्मीद है कि कथित सीडी वहां छिपाकर रखी गई है।

दो आडियो क्लिप्स गुरुवार और शुक्रवार को सामने आए जिसमें से एक में भंवरी देवी ने उल्लेख किया है कि अजमेर में बैंक लॉकर में सीडी छिपाकर रखी गई है।

More from: Khabar
26394

ज्योतिष लेख