Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

अखिलेश अपना फैसला ने वापस लिया

akhilesh has with drawn his decision


4 जुलाई 2012

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बढ़ते दबाव के चलते एक ही दिन के भीतर क्षेत्र विकास निधि से विधायकों को वाहन खरीदने की छूट से जुड़े अपने फैसले को वापस ले लिया। पूरे विपक्ष ने एक स्वर से अखिलेश के इस कदम का स्वागत किया है। विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सचेतक राधामोहन दास अग्रवाल ने कहा कि पार्टी ने पहले ही यह कहा था कि सरकार ने क्षेत्र विकास निधि से वाहन खरीदने का जो फैसला किया है, वह सही नहीं है। मुख्यमंत्री ने इस फैसले को वापस लेकर सही कदम उठाया है। यह स्वागत योग्य है।

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के प्रदेश अध्यक्ष स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि सरकार की हालत अजीब हो गई है। एक दिन पहले सदन में सरकार कुछ और फैसला लेती है और अगले दिन अपने फैसले से पलट जाती है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को स्वागत योग्य कदम उठाया है।

उन्होंने कहा कि हमने पहले ही कहा था कि क्षेत्र विकास निधि से विधायकों को वाहन खरीदने की मंजूरी देना सही नहीं है। जनता के पैसे से निजी वाहन खरीदने की मंजूरी नहीं दी जा सकती।

इस बीच, कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने भी अखिलेश के इस फैसले को स्वागत योग्य करार दिया है।

सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने मंगलवार को सदन में ही कहा था कि सरकार यदि विधायकों के लिए वाहन की व्यवस्था कराना चाहती है, तो उसके लिए अलग से इसकी व्यवस्था करनी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को सदन में घोषणा की थी कि विधायक क्षेत्र विकास निधि से अपने लिए 20 लाख रुपये तक का वाहन खरीद सकते हैं। लेकिन विपक्ष के बढ़ते दबाव के चलते सरकार को अपने इस फैसले को वापस लेने के लिए मजबूर होना पड़ा।

 

More from: Khabar
31624

ज्योतिष लेख