Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के कई उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले

260-candidates-face-criminal-charges-in--west-bengal-election-05201109

9 मई 2011

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में उतरे 20 प्रतिशत से ज्यादा उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। एक गैर सरकारी संगठन ने उम्मीदवारों द्वारा दायर किए गए हलफनामों के हवाले से यह बात कही।

'द वेस्ट बंगाल इलेक्शन वॉच' संगठन ने प्रदेश की 294 सीटों पर चुनाव लड़ रहे 1,792 उम्मीदवारों में से 1,255 उम्मीदवारों के हलफनामों का अध्ययन किया है जिनमें से 260 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले लम्बित पाए गए हैं।

इन 260 उम्मीदवारों में से सबसे ज्यादा 81 उम्मीदवार मुख्य विपक्षी दल तृणमूल कांग्रेस के हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी के ऐसे उम्मीदवारों की संख्या 48 है। मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने लम्बित आपराधिक मुकदमों वाले 38 लोगों को चुनाव लड़वाया है वहीं कांग्रेस के ऐसे उम्मीदवारों की संख्या 28 है। लम्बित आपराधिक मुकदमों वाले बाकी उम्मीदवार छोटी पार्टियों और सत्ताधारी वामपंथी गठबंधन में शामिल सहयोगी पार्टियों के हैं।

पश्चिमी मिदनापुर में नक्सल समर्थक संगठन गठित करने वाले जेल में बंद निर्दलीय प्रत्याशी छत्रधर महतो पर सर्वाधिक 31 मामले दर्ज हैं। तृणमूल कांग्रेस के प्रत्याशी बेचाराम मन्ना, शेख शहोनावेज और इदरिश अली पर भी गंभीर आरोप दर्ज हैं। इन पर क्रमश: 22, 15 और पांच मामले दर्ज हैं जिनमें हत्या, हत्या का प्रयास, अपहरण और चोरी के मामले शामिल हैं।

इसके अलावा कम से कम 552 उम्मीदवारों ने आयकर रिटर्न नहीं भरा है। साथ ही 330 उम्मीदवारों ने हलफनामे में अपने स्थाई खाता संख्या (पैन) का उल्लेख नहीं किया है।

संगठन ने कहा कि जिन उम्मीदवारों के हलफनामों का अध्ययन किया गया है उनमें से तीन निरक्षर, 12 केवल साक्षर, 265 स्कूल छोड़ने वाले और 105 माध्यमिक एवं 124 उच्च माध्यमिक स्तर तक शिक्षा प्राप्त हैं।

More from: Khabar
20590

ज्योतिष लेख