Get free astrology & horoscope 2013
Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

मैदान में लौटने को बेताब हूं : युवराज

yuvraj singh, yuvraj desperate to return field

11 अप्रैल 2012

नई दिल्ली |  अमेरिका में जर्म सेल कैंसर का सफल इलाज करवाकर लौटे भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह ने बुधवार को कहा कि वह मैदान में लौटने को बेताब हैं लेकिन फिलहाल वह इसके बारे में नहीं सोच सकते। युवराज सोमवार सुबह स्वदेश लौटे थे। उसी दिन युवराज ने बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन कर मीडिया को हाले बयां करने की बात कही थी। गुड़गांव के पाथवेज स्कूल के सभागार में खचाखच भरे मीडियाकर्मियों से मुखातिब युवराज ने कहा कि वह आम लोगों की तरह जीवन बसर करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन कैंसर ने उनके दिलो-दिमाग को काफी बदल दिया है।

युवराज ने कहा, "बीते तीन महीने मेरे लिए काफी मुश्किल भले रहे हैं। इस दौरान जिंदगी ने मुझे नया पाठ सिखाया। मैं पहले तो हताश था लेकिन बाद में मजबूत बनकर उभरा हूं। क्रिकेट देखते वक्त मैं हताश हो जाया करता था। जेहन में बार-बार यही आता था कि क्या मैं अब कभी खेल पाऊंगा। अब मैं पूरी तरह ठीक हूं। कैंसर ठीक हो चुका है। घाव भरना बाकी है लेकिन मैदान में वापसी को लेकर साफ-साफ कुछ नहीं कह सकता।"

युवराज ने अपने परिजनों, खासतौर पर अपनी मां शबनम सिंह, दोस्तों और प्रशंसकों का शुक्रिया अदा किया। युवराज ने कहा, "बीमारी के दौरान मां मेरी ताकत थी। मेरे दोस्त हमेशा मेरे सम्पर्क में रहते थे और प्रशंसकों ने लगातार प्यार दिया। इससे मेरा साहस बढ़ा और फिर अमेरिका में अनिल कुम्बले और फिर लंदन में सचिन तेंदुलकर से मिलने के बाद उन्हें बहुत खुशी हुई।"

उल्लेखनीय है कि बॉस्टन में इलाज के बाद युवराज कुछ समय से लंदन में आराम कर रहे थे। लंदन प्रवास के दौरान ही युवराज की सचिन से मुलाकात हुई थी, जो अपनी चोट के इलाज के लिए वहां पहुंचे थे। युवराज ने इस मुलाकात की जिक्र ट्विटर पर किया था और इस बारे में एक तस्वीर भी जारी की थी।

युवराज ने बॉस्टन इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर रिसर्च में जनवरी से मार्च के बीच तीन चरण में कीमोथेरेपी कराई। 30 वर्षीय युवराज को पिछले महीने अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी। युवराज इस वर्ष जनवरी के अंतिम सप्ताह में इलाज के लिए अमेरिका गए थे।

युवराज का इलाज उसी अस्पताल में चल रहा था जिस अस्पताल में सात बार के टूर डी फ्रांस जीतने वाले अमेरिकी साइकिल चालक लांस आर्म्सट्रांग ने अपने कैंसर का इलाज कराया था। युवराज की स्वदेश वापसी के बाद आर्म्सट्रांग ने एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि मैं यह देखकर खुश हूं कि तुम अब स्वस्थ हो। शानदार जीवन जियो और कभी पीछे मुड़कर मत देखना।

More from: samanya
30467

मनोरंजन
जानें ऑडिशन में सफल होने के गुर

एक्टिंग में करियर बनाने वाले लोगों के लिए मनोज रमोला ने लिखी है एक किताब जिसका नाम है ऑडिशन रूम। इस किताब में लिखे हैं ऑडिशन में सफल होने के सभी गुर।

ज्योतिष लेख
इंटरव्यू
मेरा अलग 'लुक' भी मेरी पहचान है : इमरान हसनी

हिन्दी सिनेमा में चरित्र अभिनेताओं के संघर्ष की राह आसान नहीं होती। इन्हीं रास्तों में से गुज़र रहे हैं इमरान हसनी। 'पान सिंह तोमर' में इरफान खान के बड़े भाई की भूमिका निभाकर चर्चा में आए इमरान हसनी अब इंडस्ट्री में नयी पहचान गढ़ रहे हैं। यूं कशिश व रिश्तों की डोर जैसे सीरियल और ए माइटी हार्ट जैसी अंतरराष्ट्रीय फिल्में उनके झोले में पहले ही थीं। एक ज़माने में सॉफ्टवेयर इंजीनियर रहे इमरान से अभिनय के शौक व उनकी चुनौतियों के बारे में बात की गौरी पालीवाल ने।

बॉलीवुड एस्ट्रो
बोलता कैलेंडर: तारीख़, समय, मुहूर्त को बोलकर बताता है यह ऐप

बोलता कैलेंडरबोलेगा आज की तारीख़, समय, दिन, राहुकाल, अभिजीत मुहूर्त, तिथि, नक्षत्र, योगा, करण, पंचक, भद्रा, होरा और चौघड़िया साल 2019 के लिए।