Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

पश्चिम बंगाल चुनाव: शांति के साथ हुआ 70 प्रतिशत मतदान

west-bengal-polls

18 अप्रैल 2011

कोलकाता/सिलीगुड़ी। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 70 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग करते हुए सोमवार को प्रदेश के छह जिलों की 54 सीटों पर खड़े 364 उम्मीदवारों का राजनीतिक भविष्य इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में बंद कर दिया। मतदान शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हुआ और कहीं भी कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। कुछ मतदान केंद्रों पर मतदाताओं ने स्थानीय कारणों से मतदान का बहिष्कार भी किया।

एक निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि कुछ मतदान केंद्रों पर लोगों की लम्बी कतारें थी, इसलिए वहां मतदान अभी जारी है। प्रारम्भिक जानकारी के मुताबिक अब तक लगभग 70 फीसदी मतदाताओं ने मतदान में हिस्सा लिया। पूरी जानकारी आने के बाद मतदान प्रतिशत में वृद्धि भी हो सकती है। राज्य के संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी दिब्येंदु सरकार ने कहा कि स्थानीय मुद्दों को लेकर लोगों ने मालदा जिले के छह और दक्षिणी दिनाजपुर के दो मतदान केंद्रों पर मतदान का बहिष्कार किया। राज्य के मुख्य पर्यटन स्थल दार्जीलिंग के लोगों में मतदान के प्रति खासा उत्साह देखा गया। मतदान केंद्रों के बाहर लोग लम्बी कतारों में खड़े दिखाई दिए।

राज्य में सत्ताधारी मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेतृत्‍व वाले वाम मोर्चा सरकार को 34 वर्षो के शासनकाल में पहली बार तृणमूल कांग्रेस-कांग्रेस के गठबंधन से कड़ी चुनौती मिल रही है। सरकार ने कहा, "कुछ जिलों के दो या तीन मतदान केंद्रों पर इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतें मिली थीं। जल्दी ही मशीनों को बदल दिया गया और मतदान सुचारू संपन्न हुआ।"

सरकार ने कहा कि छह जिलों के 12,131 मतदान केंद्रों पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई थी, जिनमें 1,800 मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया गया था। राज्य के दार्जीलिंग, जलपाईगुड़ी, कूचबिहार, उत्तरी दिनाजपुर, दक्षिणी दिनाजपुर और मालदा जिलों में सोमवार को 97 लाख मतदाताओं में से 70 फीसदी ने राज्य के 11 मंत्रियों सहित 364 उम्मीदवारों के राजनीतिक भविष्य का फैसला ईवीएम में बंद कर दिया। मालदा से आ रही रपटों के मुताबिक बिजली कटौती की वजह से मतदान प्रक्रिया प्रभावित हुई।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सभी जिलों में केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की लगभग 548 कम्पनियों को तैनात किया गया था। पुलिस महानिरीक्षक (उत्तरी बंगाल) रणबीर कुमार ने आईएएनएस को फोन पर बताया, "मतदान प्रभावित नहीं हुआ है।" उन्होंने कहा कि मतदान शांतिपूर्ण रहा और किसी भी इलाके से किसी तरह की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

पहले चरण के तहत माकपा 32, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) 2, फॉरवर्ड ब्लॉक 10, रिवोल्यूशनरी कम्युनिस्ट पार्टी 9, सोशलिस्ट पार्टी 1, तृणमूल कांग्रेस 26, कांग्रेस 27, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी एक और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 49 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। राज्य में विधानसभा चुनाव के पहले चरण के तहत मतदान सुबह सात बजे शुरू हो गया, जो शाम पांच बजे तक चला।

शांतिपूर्ण मतदान के मद्देनजर सभी जिलों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। नेपाल, भूटान और बांग्लादेश की सीमा से सटे कूच बिहार, दार्जीलिंग और जलपाईगुड़ी जिलों में सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। उल्लेखनीय है कि राज्य की 294 विधानसभा सीटों पर छह चरणों में मतदान कराया जाएगा। अगले चरण का मतदान 23 अप्रैल, सात अप्रैल, तीन मई, सात मई और 10 मई को होगा।

 

More from: samanya
20089

ज्योतिष लेख