Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

उप्र निकाय चुनाव : उम्मीदवार ज्योतिषियों की शरण में

up nikay elections candidates in the shelter of astrologers

4 जून 2012 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में नगर निगम चुनाव की डुगडुगी बजने के साथ ही मैदान में उतरे उम्मीदवार ज्योतिषाचार्यो की शरण में जाकर उनकी सलाह पर बताए गए दिन पर नामांकन कर रहे हैं, ताकि चुनाव में जीत का सेहरा उन्हीं के सिर बंधे।

राज्य निर्वाचन आयोग ने निकाय चुनाव के लिए अधिसूचना गत शुक्रवार को जारी की थी। जिसके बाद अलग-अलग पदों के लिए मैदान में उतरे ज्यादातर उम्मीदवार आजकल ज्योतिषियों के घरों के चक्कर काट रहे हैं।

उम्मीदवारी के आवेदन पत्र मिलने शुरू होने के बाद प्रत्याशियों ने उन्हें खरीद तो लिया, लेकिन नामांकन दाखिल नहीं किया है। उन्हें भरोसा है कि ज्योतिषियों के बताए मुहूर्त पर नामांकन करने पर जीत की सम्भावना बढ़ जाएगी।

गुप्त नगर वार्ड से पार्षद के तौर पर चुनाव लड़ने जा रहे सुरेश मोदी ने आवेदनपत्र जमा करने सम्बंधी सारी औपचारिकताएं 29 मई को ही पूरी कर ली थीं, लेकिन उन्होंने ज्योतिषी द्वारा बताए गए शुभ मुहूर्त पर नामांकन 31 मई को दाखिल किया।

मालवीय नगर वार्ड से पार्षद का चुनाव लड़ने जा रहीं गीता चौधरी ने भी ठीक वैसा ही किया। वह कहती हैं, "मैंने पंडित जी के बताए मुहूर्त पर अपना पर्चा दाखिल किया। बात केवल भरोसे की है और कुछ नहीं।"

चौक निवासी ज्योतिषाचार्य पंडित शिवांकात शास्त्री का कहना है, "चुनाव में शुभ मुहूर्त हर प्रत्याशी के लिए व्यक्तिगत होते हैं। प्रत्याशी का नाम, राशि, जन्मतिथि, जन्मस्थान आदि के बारे में विचार करने के बाद उन्हें शुभ मुहूर्त बताया जाता है।"

निराला नगर निवासी ज्योतिषाचार्य ओंकारनाथ अवस्थी कहते हैं, "पिछले तीन दिनों में करीब 25 से ज्यादा उम्मीदवार मेरे पास आए। कई अन्य सम्पर्क बनाए हुए हैं। ज्यादातर पार्षद का चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी हैं।"

उल्लेखनीय है कि निकाय चुनाव के लिए मतदान चार चरणों में 24 जून से होगा, जबकि मतगणना सात जुलाई को होगी। निकाय चुनाव में 12 नगर निगमों, 189 नगरपालिकाओं और 404 नगर पंचायतों के लिए मतदान होगा। पहले चरण में 24 जून को 18 जिलों में, दूसरे चरण में 27 जून को 17 जिलों में, तीसरे चरण में एक जुलाई को 20 जिलों में और चौथे चरण में चार जुलाई को 17 जिलों में मतदान होगा।


 

More from: samanya
31037

ज्योतिष लेख