Get free astrology & horoscope 2013
Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

लघु फिल्में व्यावसायिक तौर पर प्रदर्शित की जाएं : गुलशन ग्रोवर

Short films should be shown commercially: Gulshan Grover

18 सितम्बर 2012


मुम्बई| अभिनेता गुलशन ग्रोवर का कहना है कि लघु फिल्मों को विशेष रूप से टीवी पर दिखाया जाना चाहिए, ताकि इन्हें व्यावसायिक रूप से लाभ मिल सके। गुलशन (56) ने सोमवार को एक लघु फिल्म 'स्केपगोट' के प्रदर्शित होने के मौके पर कहा, "मैं चाहता हूं कि वह समय आए जब सिनेमाघरों में व्यावसाहिक फिल्में भी प्रर्दिशत हों, लोग उन्हें देखें, इनकी डीवीडी लांच हो और इन्हें पूर्ण फीचर फिल्मों की बजाय टीवी पर दिखाया जाए। जैसे संजय गुप्ता ने 'दस कहानियां' बनाई।"


उन्होंने कहा, "दुर्भाग्य से भारत में लघु फिल्मों को कोई चलन नहीं है क्योंकि यहां उन्हें व्यावसायिक रूप से प्रदर्शित करने की कोई जगह नहीं है। इसके अलावा इन फिल्मों के व्यावसायिक मूल्यांकन की कोई जगह नहीं है।"


गुलशन का मानना है कि लघु फिल्मों के विषय मजबूत होते हैं। उन्होंने कहा, "जो लोग लघु फिल्में बनाते हैं, उनके विषय हैरान करने वाले और असाधारण होते हैं।"


 

More from: samanya
32876

मनोरंजन
जानें ऑडिशन में सफल होने के गुर

एक्टिंग में करियर बनाने वाले लोगों के लिए मनोज रमोला ने लिखी है एक किताब जिसका नाम है ऑडिशन रूम। इस किताब में लिखे हैं ऑडिशन में सफल होने के सभी गुर।

ज्योतिष लेख
इंटरव्यू
मेरा अलग 'लुक' भी मेरी पहचान है : इमरान हसनी

हिन्दी सिनेमा में चरित्र अभिनेताओं के संघर्ष की राह आसान नहीं होती। इन्हीं रास्तों में से गुज़र रहे हैं इमरान हसनी। 'पान सिंह तोमर' में इरफान खान के बड़े भाई की भूमिका निभाकर चर्चा में आए इमरान हसनी अब इंडस्ट्री में नयी पहचान गढ़ रहे हैं। यूं कशिश व रिश्तों की डोर जैसे सीरियल और ए माइटी हार्ट जैसी अंतरराष्ट्रीय फिल्में उनके झोले में पहले ही थीं। एक ज़माने में सॉफ्टवेयर इंजीनियर रहे इमरान से अभिनय के शौक व उनकी चुनौतियों के बारे में बात की गौरी पालीवाल ने।

बॉलीवुड एस्ट्रो
बोलता कैलेंडर: तारीख़, समय, मुहूर्त को बोलकर बताता है यह ऐप

बोलता कैलेंडरबोलेगा आज की तारीख़, समय, दिन, राहुकाल, अभिजीत मुहूर्त, तिथि, नक्षत्र, योगा, करण, पंचक, भद्रा, होरा और चौघड़िया साल 2019 के लिए।