Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

मुंबई इंडियंस को हराकर फाइनल में पहुंचा रॉयल चैलेंजर्स

royal-challengers-in final-05201127

28 मई 2011

चेन्नई। एम.ए. चिदम्बरम स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के चौथे संस्करण के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स ने शुक्रवार को मुम्बई इंडियंस को 43 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ चैलेंजर्स की टीम आईपीएल-4 के फाइनल में पहुंच गई है जहां उसकी भिड़ंत चेन्नई सुपर किंग्स से होगी।

चैलेंजर्स के 186 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंडियंस की शुरुआत काफी खराब रही और नियमित अंतराल पर उसके विकेट गिरते रहे। निर्धारित 20 ओवर में इंडियंस की टीम आठ विकेट खोकर 142 रन ही बना सकी। इंडियंस के कप्तान सचिन तेंदुलकर को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज क्रीज पर नहीं जम सका।

अपनी टीम के प्रदर्शन से निराश तेंदुलकर ने चैलेंजर्स की जीत की नींव रखने वाले उसके बल्लेबाज क्रिस गेल से हाथ मिलाया और शानदार बल्लेबाजी के लिए उन्हें बधाई दी। गेल ने 47 गेंदों में 89 रनों की धमाकेदार पारी खेली।

तेंदुलकर ने कहा, "गेल ने जिस तरह से शुरुआत की थी उससे चैलेंजर्स का आंकड़ा 200 के पार जा सकता था लेकिन हमने अंतिम 10 ओवर में मैच में वापसी की। हमने उन्हें 15 रन अधिक दे दिए। 170 रन का स्कोर ठीक ठाक होता। मैं सोचता हूं कि ऐसा सम्भव था। यह उच्च स्कोर वाला मुकाबला था, जिसे हासिल किया जा सकता था, लेकिन हमारा मध्यक्रम नहीं चल सका।"

शानदारी पारी के लिए मैन आफ द मैच का खिताब हासिल करने वाले गेल ने कहा कि हरभजन सिंह और लसिथ मलिंगा इंडियंस के दो प्रमुख गेंदबाज थे जिनको लेकर वह थोड़ा सर्तक थे।

मैच के बाद चैलेंजर्स के कप्तान डेनियल विटोरी ने कहा, "हमने पूरे सत्र में अच्छा प्रदर्शन किया है। गेल को गेंदबाजी करना काफी मुश्किल है। वह हमारे लिए एक संपत्ति के समान हैं। साथ ही हमारी शुरुआती गेंदबाजी भी शानदार रही।"

इंडियंस की ओर से पारी की शुरुआत करने आए ऐडेन ब्लजार्ड 11 गेंदों पर 10 रन बनाकर आउट हुए, जबकि सचिन तेंदुलकर 24 गेंदों पर 40 रन बनाकर पवेलियन लौटे। तेज शुरुआत देने आए हरभजन सिंह भी कुछ खास नहीं कर पाए और वह भी 13 रन बनाकर आउट हो गए। रोहित शर्मा 13 रन बनाकर आउट हुए जबकि अम्बाती रयूदु बिना खाता खोले डेनियल विटोरी के शिकार बने।

इसके बाद जेम्स फ्रैंकलिन को 16 रन के निजी स्कोर पर जहीर खान ने बोल्ड किया। वहीं छक्का मारने की चक्कर में केरोन पोलार्ड विटोरी का शिकार बने। वह तीन रन बना सके। लसिथ मलिंगा सात रन बनाकर आउट हुए। राजागोपाल सतीश 19 रन और अबु नेशिम 18 रन बनाकर नाबाद लौटे।

इससे पहले टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए रॉयल चैलेंजर्स ने क्रिस गेल की 89 रनों की विस्फोटक पारी की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में 185 रन बनाए। गेल ने 47 गेंदों पर नौ चौकों और पांच छक्कों की मदद से 89 रन बनाए जबकि मयंक अग्रवाल 31 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से 41 रन बनाकर आउट हुए। विराट कोहली आठ रन और ल्यूक पॉमर्सबैक चार रन बनाकर आउट हुए। अब्राहम डिविलियर्स और सौरभ तिवारी क्रमश: 21 और आठ रन बनाकर नाबाद रहे।

गेल ने अबू नचीम द्वारा फेंके गए पहले ओवर में 27 रन जुटाए। गेल ने 27 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया, जो आईपीएल के इस सत्र का सबसे तेज अर्धशतक है।

रॉयस चैलेंजर्स पहले क्वालीफायर में चेन्नई सुपर किंग्स के हाथों हारने के बाद फाइनल के लिए दूसरी बार अपनी चुनौती पेश कर रही थी जबकि मुम्बई इंडियंस एकमात्र एलिमिनेटर मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स पर रोमांचक जीत के साथ यहां तक पहुंची थी।

 

More from: samanya
21071

ज्योतिष लेख