Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

भारत की तरक्‍की से उत्‍पन्‍न होगें अनेक अवसर : अमेरिका

robert-blake-usa-about-india

27 अप्रैल 2011

वाशिंगटन। अमेरिका के एक शीर्ष अधिकारी के अनुसार, चूंकि 2030 के भारत का 80 प्रतिशत हिस्सा अभी निर्मित होना है, लिहाजा अमेरिकी और भारतीय कम्पनियों के लिए रक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों में व्यापार के अपार अवसर हैं। दक्षिण एशिया के लिए अमेरिका के सहायक विदेश मंत्री, रॉबर्ट ब्लेक ने पिछले सप्ताह 'नॉलेज एट व्हार्टन' को फिलाडेल्फिया में दिए साक्षात्कार में कहा था कि भ्रष्टाचार और अधोसंरचना जैसी कुछ कमियों के बावजूद इस समय भारत में जो जबरदस्त वृद्धि हो रही है, वह कुछ महत्वपूर्ण अवसर उपलब्ध कराती है।

ब्लेक ने व्हार्टन इंडिया इकॉनॉमिक फोरम में कहा था, "चूंकि 2030 का 80 प्रतिशत भारत अभी निर्मित होना है, लिहाजा हवाईअड्डों, क्षेत्रीय हवाईअड्डों, रेलवे नेटवर्क, फाइबर आप्टिक नेटवर्क के विकास जैसे क्षेत्रों में अपार अवसर तैयार होने जा रहे हैं।" ब्लेक ने कहा कि रक्षा जैसे संवेदनशील क्षेत्रों में भी अब अवसरों की सम्भावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि चूंकि भारत का रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) वाणिज्य विभाग की आईएस संस्थाओं की सूची में शामिल हो चुका है, लिहाजा हम उसके साथ काम करने की स्थिति में आ गए हैं।

ब्लेक ने कहा, "इस तरह यहां कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां मिलकर काम किया जा सकता है। मैं समझता हूं कि जब आप निजी क्षेत्र को जोड़ते हैं, जो कि पहले से ही भारत व अमेरिका, दोनों जगह बहुत विकसित है, तो मिल कर काम करने के अवसर कई गुना बढ़ जाते हैं।" ब्लेक ने कहा कि चूंकि अमेरिकी कम्पनियां मध्यम श्रेणी के बहु भूमिका वाले लड़ाकू विमान के ठेके हासिल होने को लेकर आश्वान्वित हैं, लिहाजा उनके लिए निवेश शुरू करने के अनेक अवसर होंगे।

ब्लेक ने कहा, "मैं समझता हूं कि वहां कुछ बहुत ही रोचक सह विकास एवं सह उत्पादन के अवसर होंगे जो उससे पैदा होंगे।" अवसरों को कमजोर करने वाले कुछ सम्भावित खतरों के बारे में पूछने पर ब्लेक ने कहा, "जिस एक खतरे से ढेर सारे लोग डरते हैं वह यह है कि इस समय हमारे रिश्तों में जो गति पैदा हुई है, वह स्थिर नहीं होगी।"

खासतौर से भारतीय संसद में उभरे राजनीतिक मतभेद का जिक्र करते हुए ब्लेक ने कहा, "मैं समझता हूं कि भ्रष्टाचार सम्बंधी विवाद की ओर जितना ध्यान दिया गया है, उसने वाकई में ढेर सारे अवसरों का आधार तैयार किया है, जो सामने आ सकते हैं।" ब्लेक ने कहा, "इसलिए मैं समझता हूं कि हमारे दोनों देशों को अपने लक्ष्य पर नजर बनाए रखने, अपने नेताओं को इस रिश्ते के महत्व को याद दिलाते रहने तथा लगातार प्रगति करने रहने की आवश्यकता है।"

More from: samanya
20323

ज्योतिष लेख