Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

कोच्चि टस्कर्स के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स की शाही जीत

rc wins against kochi

8 मई 2011

बेंगलुरू । इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के चौथे संस्करण के अंतर्गत रविवार को खेले गए लीग मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर ने कोच्चि टस्कर्स केरल के खिलाफ शाही जीत दर्ज की। कोच्चि टस्कर्स की ओर से रखे गए 126 रनों के लक्ष्य को उसने एक विकेट गंवाकर सिर्फ 13.1 ओवरों में पाकर नौ विकेट से यह मैच जीत लिया।

कोच्चि टस्कर्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में 125 रन बनाए थे। सलामी बल्लेबाजों क्रिस गेल और तिलकरत्ने दिलशान की धुआंधार बल्लेबाजी की बदौलत रॉयल चैलेंजर्स ने आसानी से सिर्फ 13.1 ओवरों में इस लक्ष्य को हासिल कर लिया।

गेल और तिलकरत्ने दिलशान ने अपनी टीम को बेहद तेज शुरुआत दी। दोनों ने पहले विकेट के लिए सिर्फ 23 गेंदों पर 67 रन बना डाले। गेल महज 16 गेंदों पर 44 रन बनाकर पवेलियन लौटे। इस धुआंधार पारी के दौरान उन्होंने पांच छक्के व तीन चौके लगाए। उन्हें आर. विनय कुमार ने बोल्ड किया।

दिलशान ने भी तेज पारी खेली और उन्होंने 31 गेंदों पर 52 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने आठ चौके तथा एक छक्का लगाया। दूसरी छोर पर विराट कोहली ने उनका अच्छा साथ दिया। कोहली ने 33 गेंदों पर 27 रन बनाए। उन्होंने तीन चौके लगाए तथा दिलशान के साथ अंत तक नाबाद रहे।

इससे पहले, रॉयल चैलेंजर्स की कसी हुई गेंदबाजी के आगे कोच्चि टस्कर्स के बल्लेबाजों की एक न चली और वे निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट गंवाकर सिर्फ 125 रन ही बना सके।

एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे इस मुकाबले में कोच्चि टस्कर्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ब्रेंडन मैक्लम और माइकल क्लिंगर ने कोच्चि को अच्छी शुरुआत देकर कप्तान माहेला जयवर्धने के इस फैसले को सही भी साबित किया लेकिन जैसे खेल आगे बढ़ा कोच्चि की बल्लेबाजी बिखरती गई। क्लिंगर और मैक्लम ने पहले विकेट के लिए शानदार 43 रन जोड़े।

मैक्लम के रूप में कोच्चि को पहला झटका लगा। रॉयल चैलेंजर्स के कप्तान डेनियल विटोरी की एक गेंद को सीमा रेखा से बाहर पहुंचाने के प्रयास में वह स्थानापन्न खिलाड़ी अरुण कार्तिक के हाथों मिडविकेट पर लपके गए। मैक्लम ने 16 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 22 रन बनाए। मैक्लम के आउट होने के बाद कोच्चि के बल्लेबाजों के विकेट गिरने का जो सिलसिला आरम्भ हुआ वह अंत तक नहीं थमा।

कोच्चि टस्कर्स का दूसरा विकेट क्लिंगर के रूप में गिरा। क्रिस गेल की एक यॉर्कर गेंद पर क्लिंगर गच्चा खा गए और बोल्ड होकर पवेलियन लौट गए। क्लिंगर ने 25 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 24 रन बनाए। उन्होंने पार्थिव के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 21 रन जोड़े। कप्तान जयवर्धने ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक सके और वह तीन रन बनाकर विटोरी का दूसरा शिकार बने।

पार्थिव पटेल 14 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 19 रन बनाकर रन आउट हुए जबकि ब्रैड हॉज ने सिर्फ पांच रन बनाए। उनका विकेट श्रीनाथ अरविंद ने लिया।

इसके बाद रवींद्र जडेजा ने कोच्चि टस्कर्स की पारी को सम्भालने की बखूबी कोशिश की लेकिन 23 रन बनाकर वह भी पवेलियन लौट गए। राफी गोमेज ने सात, विनय कुमार ने तीन जबकि रमेश पोवार ने आठ रनों का योगदान दिया। रूद्र प्रताप सिंह (0) और प्रशांत परमेश्वरम (1) रन बनाकर नाबाद लौटें।

रॉयल चैलेंजर्स की ओर से कप्तान डेनियल विटोरी और श्रीनाथ अरविंद ने दो-दो विकेट हासिल किए जबकि जहीर खान, क्रिस गेल और अभिमन्यु मिथुन को एक-एक विकेट मिले।

इस मुकाबले के लिए कोच्चि टस्कर्स ने अपनी टीम में एक बदलाव किया था। तेज गेंदबाज शांताकुमारन श्रीसंत की जगह स्पिन गेंदबाज रमेश पवार को अंतिम एकादश में मौका दिया वहीं रॉयल चैलेंजर्स ने भी अपनी टीम में एक परिवर्तन किया। उसने असद पठान की जगह पर चेतेश्वर पुजारा को मौका दिया।

More from: samanya
20578

ज्योतिष लेख