Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

क्या है साठ पार रजनीकांत के सुपरस्टार होने का राज

rajnikanth a superstar


12 दिसम्बर 2012

चेन्नई। बस कंडक्टर से दुनिया के अत्यंत पसंदीदा और पूजनीय अभिनेता बनने का सफर तय करने वाले शिवाजी राव गायकवाड़ उर्फ रजनीकांत की कहानी किसी ब्लॉकबस्टर मूवी के लिए बेहतर कहानी साबित हो सकती है। आज रजनीकांत 62 साल के हो गये। रजनीकांत के अभी तक सुपरस्टार बने रहने का राज आखिर क्या है यह जानने के लिए फिल्मोद्योग से जुड़े लोग बीते हुए सालों की तरफ देख रहे हैं। हिंदी ब्लॉकबस्टर 'गोल माल' के तमिल संस्करण 'थिल्लु मुल्लु' में रजनीकांत की बहन की भूमिका निभाने वाली विजी चंद्रशेखर का मानना है कि हर किसी से एक समान व्यवहार करने की क्षमता ने रजनीकांत को यह कद दिया है।


विजी ने कहा कि रजनीकांत सेट पर सभी के साथ अत्यंत सम्मान के साथ पेश आते हैं और सभी को बराबर महत्व देते हैं। भले ही वह लाइट ब्यॉय हो या सहायक कलाकार, रजनीकांत किसी से भेदभाव नहीं करते।


विजी ने कहा कि सुपरस्टार हमेशा सफल रहने वाले को नहीं, बल्कि जो सफलता और विफलता का समान रूप से सामना करे और सामान्य बना रहे उसे माना जाता है। फिल्म के सेट पर काम के दौरान उनकी सादगी महसूस की। अभिनेत्री ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि रजनीकांत सफलता और विफलता को समान रूप से लेना भलिभांति जानते हैं।


दूसरी तरफ तमिल फिल्मनिर्माता लक्ष्मी रामकृष्णन महसूस करते हैं कि रजनीकांत सुपरस्टार इसलिए हैं, क्योंकि वे यह नहीं मानते कि वे अद्वितीय हैं। रामकृष्णन ने कहा कि रजनीकांत सुपरस्टार कहलाना पसंद नहीं करते, लेकिन वे हैं क्योंकि लोगों ने उन्हें यह बनाया है। सुपरस्टार पैदा नहीं होते, बनते हैं। लेकिन, यदि कोई सुपरस्टार बनने के लिए बुरी तरह हाथ-पांव मारता है तो निश्चित रूप से वह विफल होगा।

 

More from: samanya
34072

ज्योतिष लेख