Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

इंग्लैंड में भारतीय टीम का फिर हुआ अपमान,पहले कहा कुत्ता और अब गधा!

english team ex captain insulted team india,calls ass

 
1 सितंबर 2011

मैनचेस्टर। माना कि इंग्लैंड टीम ने दुनिया की नंबर वन टेस्ट टीम भारत से उसकी सत्ता छीन लिया है, अपने बेहतरीन खेल के दम पर उसने भारत को चार टेस्ट मैचों में 4-0 से मात देकर नंबर का खिताब अपने नाम कर किया है। इसमें भी कोई दो राय नहीं कि इंग्लैंड टीम इस समय दुनिया की बेहतरीन टीम बनकर उभरी है। उसने साबित किया है कि उनकी बैटिंग ऑर्डर से लेकर बॉलिंग किसी का भी तोड़ भारतीय टीम के पास नहीं है। लेकिन इसका ये कतीय मतलब नहीं है कि वे जीत के उंमाद में इतने खो जाए कि भ्रद खेल क्रिकेट के सभी अनुशासन को भूल जाएं। आखिर कैसे वे अपने देश आये मेहमानों को कभी कुत्ते की उपाधि तो कभी गधे से उसकी तुलना कर सकते हैं।

इंग्लैंड में भारतीय टीम का एक बार फिर अपमान हुआ है। और इस बार अपमान किसी मीडिया के द्वारा नहीं किया गया है, बल्कि पूर्व इंग्लिश कप्तान नासिर हुसैन ने किया है। बुधवार को इंग्लैंड के खिलाफ ट्वेंटी-20 मुकाबले के दौरान नासिर ने कमेंट्री के दौरान कहा कि 'भारतीय टीम में कई गधे खिलाड़ी हैं।' इस बयान से भारतीय क्रिकेट में भूचाल आ गया है। अधिकतर क्रिकेट विशेषज्ञ इसे भारतीयों का अपमान बता रहे हैं।

चार टेस्ट मैचों की सीरीज गंवाने के बाद टीम इंडिया एक मात्र ट्वेंटी-20 मुकाबले में उतरी, जहां उसे छह विकेट से पराजय झेलना पड़ी। इस मैच के दौरान जवाबी पारी खेलने उतरी इंग्लैंड टीम के खिलाफ जब चौथा ओवर फेंका जा रहा था, तब मुनाफ पटेल की गेंद पर केविन पीटरसन का थर्डमैन एरिया में पार्थिव पटेल ने एक ऊंचा कैच टपका दिया। इस पर कमेंट्री बॉक्स में बैठे नासिर ने कहा कि भारतीय टीम में कई अच्छे फील्डर हैं जबकि कई गधे भी हैं।

इससे पहले टेस्ट सीरिज़ में भारत की लगातार हो रही हार पर ब्रिटिश मीडिया ने भारतीय टीम की तुलना कुत्ते से कर दी थी। आखिर बार बार भारतीय टीम का इस तरह से अपमान क्यों किया जा रहा है। क्या इंग्लिश टीम उस मैंच को भूल गई कि जब इयान बेल के रन आउट होने पर भी भारतीय टीम ने बड़प्पन दिखाते हुए उन्हें मैदान में वापस बुला लिया था, जबकि वे क्रिकेट के नियमों के हिसाब से आउट थे।

हुसैन की इस टिप्पणी का पूर्व भारतीय खिलाड़ियों ने आपत्तिजनक बताया है। पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज सैयद सबा करीम ने विरोध जताते हुए कहा कि किसी भी व्यक्ति को इस भद्र खेल में अभद्रता करने का अधिकार नहीं है। कोई किसी के खिलाफ अभद्र भाषा का उपयोग भी नहीं कर सकता फिर नासिर हुसैन जैसे क्रिकेटर की यह बात समझ से परे हैं। उन्हें सोच-समझकर बोलना चाहिए। कई अन्य भारतीय क्रिकेटरों ने भी नासिर की भाषा पर आपत्ति जताई है।
 
टीम के अपमान पर अब बीसीसीआई का क्या रुख होता है, ये देखना महत्वपूर्ण होगा। भारत और इंग्लैंड के बीच अभी 5 वन डे मैच खेलना बाकि है।

More from: samanya
24431

ज्योतिष लेख