Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

आसान नहीं रहा है मेरा सफर : मधुर भंडारकर

my life was of too much struggle says madhur bhandarkar

18 अक्टूबर 2012


मुम्बई। मधुर भंडारकर की ताजातरीन फिल्म 'हिरोइन' भले ही ज्यादा तारीफ नहीं बटोर सकी लेकिन मधुर अपने अब तक के काम से खुश हैं। 44 साल के मधुर ने बुधवार को कहा, "मेरा सफर कठिन और वास्तविक रहा है। यह सीधा सफर नहीं रहा है। ट्रैफिक सिग्नल से फिल्म जगत तक मैंने कई अलग-अलग तरह की फिल्में बनाई हैं और मैं अपने काम से खुश हूं। मैंने अपनी फिल्मों के लिए काफी शोध किया है।"


राष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुके मधुर ने बार में काम करने वाली लड़कियों, फैशन जगत के सदस्यों, कारपोरेट से जुड़े लोगों और उन लोगों पर फिल्में बनाई हैं जो ट्रैफिक सिग्नल पर रहते हैं।


मधुर कहते हैं कि उनकी फिल्में देखकर कुछ लोग नाराज भी होते हैं और स्वीकार करते हैं कि वह इन्हें देखकर परेशान हुए हैं लेकिन मधुर को इसकी तनिक भी चिंता नहीं।


मधुर की अगली फिल्म की घोषणा शीघ्र ही होने वाली है। वह कहते हैं, "फिलहाल मैं थोड़ा आराम करूंगा और फिर जल्द ही अपनी अगली फिल्म की घोषणा करूंगा।"

 

More from: samanya
33449

ज्योतिष लेख