Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

टेलीविजन से ज्यादा संतोषजनक है सिनेमा : पंकज

movie is more than satisfy television

14 दिसम्बर 2012

मुम्बई । प्रसिद्ध अभिनेता पंकज कपूर चर्चित धारावाहिक 'करमचंद' का हिस्सा रहे हैं लेकिन वह गत एक दशक से छोटे पर्दे से दूर हैं और इसकी वजह वह इसके स्वरुप के बदल जाने को मानते हैं साथ ही वह फिल्मों में काम कर ज्यादा संतुष्ट हैं।


पंकज ने कहा, "मैंने आठ से नौ साल पहले मैंने टेलीविजन पर सक्रिय न रहने का फैसला किया क्योंकि मुझे लगा कि टेलीविजन का स्वरुप बदल रहा है और मेरे जैसा इंसान आजकल चल रहे कार्यक्रमों से खुद को जोड़कर नहीं देख सकता।"


दूसरी तरफ उनका मानना है कि फिल्मों में एक कलाकार को उसके किरदार के लिए काफी समय मिल जाता है।


'करमचंद' के अलावा 'जबान सम्भाल के' , 'आफिस आफिस' और 'मोहनदास बी.ए.एल.एल.बी' जैसे धारावाहिक का अहम हिस्सा रहे 58 वर्षीय पंकज ने कहा, "आप टेलीविजन पर उतना ही काम करते हैं जितना फिल्मों में। फिल्म में काफी कम समय लगता है और आपको अपने किरदार पर शोध करने और उस पर काम करने का समय मिल जाता है। यह ज्यादा संतोषजनक होता है क्योंकि फिल्म चले या न चले आपके किरदार को विभिन्न लोग विभिन्न माध्यमों में देखते हैं।"


हालांकि, छोटे पर्दे पर वह काम करने को अभी भी तैयार हैं।


उन्होंने कहा, "बतौर कलाकार मेरे लिए टेलीविजन का विकल्प अभी भी खुला है लेकिन वैसे कार्यक्रमों में नहीं जो आज दिखाया जाता है। लेकिन ऐसा कुछ जो बिलकुल अलग हो और निर्देशक और अभिनेता को जरूरी आजादी दी जा रही हो तो करूंगा।"


'नेशनल स्कूल आफ ड्रामा' की छात्र रहे पंकज रंगमंच पर भी सफल रहे हैं। वह जल्द ही निर्देशक विशाल भारद्वाज की फिल्म 'मटरू की बिजली का मंडोला' में नजर आएंगे ।
 

11 जनवरी 2013 में प्रदर्शित हो रही इस फिल्म में अभिनेता इमरान खान और अभिनेत्री अनुष्का शर्मा भी होंगे।


 

More from: samanya
34080

ज्योतिष लेख