Jyotish RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

मकर राशि भविष्‍यफल 2011

capricorn rashiphal 2011, capricon horoscope 2011

मकर (भो, जा, जी, खी, खू, खे, गो, गा, गी.)

जनवरी- साल के पहले मही ने की शुरूआत मिले जुले फल के साथ हो रही है स्वास्थ्य की समस्या से ग्रस्त हो सकते हैं मन में अशान्ति, व्यापार में अचछा लाभ मिलने की उम्मीद है. अपव्यय होने की प्रबल सम्भावना है. पत्नी से मधुर सम्बन्ध बनेंगे. यात्रा हो सकती है सन्तान को कष्ट हो, कोई अप्रिय समाचार मिल सकता है हनुमान उपासना लाभदायक रहेगी.

फरवरी- इस मास में कार्य में बाधा असफलता या हानि हो सकती है, स्त्री को कष्ट , मासान्त ठीक गुजरे.शुभ समाचार मिले. गृह कलह , व्यर्थ चिन्ता, स्वजनों से अनबन , शारीरिक कष्ट हो सकता है. विद्यार्थी वर्ग को अपेक्षित सफलता मिलने से खुशी होगी. व्यापारी वर्ग को हानि के योग हैं.

मार्च-इस मास में शारीरिक कष्ट एवम उदर विकार की सम्भावना है. मन अशान्त हो, सत्पुरुषों का सहयोग मिलेगा. धन का लाभ हो राज्य से लाभ के अवसर बनेगे. नई योजना पर कार्य होगा. सन्तान की उन्नति से खुशी होगी. कष्ट से बचने के लिये काली वस्तुओ का दान करें. दुर्गा उपासना सभी कष्टों से बचायेगी.

अप्रेल– इस माह ग्रह गोचर का फल मध्यम बना है किसी बात पर घोर निराशा हाथ लगेगी जिससे आशा निराशा में बदल जायेगी. सूर्य पराक्रम भाव में होने से रुके हुए कार्यों को पूर्ण करने में सहयोग प्रदान करेगा. परंतु मानसिक परेशानी भी दे सकता है. अपेक्षित लाभ अर्जित होगा. सामाजिक अथवा संगठन से जुड़े व्यक्ति पद-प्रतिष्ठा प्राप्त करेंगे. समय का सदुपयोग करें, पूर्ण लाभ मिलेगा.

मई- इस मास का समय आपकी परेशानी को बढ़ा सकता है. अवसाद बढने के पूरे योग हैं . महीने के पूर्वार्ध में परेशानी उत्पन्न हो सकती है. मासान्त मे पूर्ण लाभान्वित होने का समय रहेगा. भवन निर्माण अथवा खरीदने अवसर मिलेगा जिससे परिवार में खुशी रहेगी. सन्तान पक्ष परेशानी मे डाल सकता है . शनि सफलता दिलाने वाला ग्रह होगा. हनुमान की उपासना अनुकूल परिणाम लायेगी.

जून: इस मास में स्वास्थय में गिरावट रहे, धनलाभ का अवसर बनेगा , विवादों से बचे. स्त्री पक्ष का अपने पति से मन मुटाव हो सकता है. व्यापार सामान्य. परिश्रम के अनुकूल फल न मिलने से मन अशान्त रहेगा. ता १६ से २५ अनुकूल परिणाम देखने को मिलेंगे. पीतल के लोटे में बहती नदी का जल लेकर रखें . लाभ दाय क होगा.

जुलाई- इस मास में आपको अपयश और विफलता मिल सकती है, व्यर्थ के झगडो से बचना पड़ेगा, माह के उत्तरार्ध से कष्टो मे और बढोतरी हो सकती है आगे समय अनुकूल नही है बने हुए कार्य बिगड सकता है धीरज धारण करे. समय का इन्त जार करे. पिछ्ले की मही नो मे की गई मेहनत का फल अनुकूल न मिलने से अवसाद की स्थिति बन सकती है. चिन्ता न करे. बुजुर्गो का आशीर्वाद ले सब ठीक हो जायेगा.

अगस्त-. इस मास में अपने -पराए की पहचान होगी. काम होंगे पर विफलता की स्थिति बनी रहेगी, जिससे मानसिक तनाव रहेगा. मास के अन्तिम सप्ताह से मासान्त तक का समय मानसिक क्लेश एवं कार्यों में व्यवधान खड़ा कर सकता है. मित्रो से सहयोग प्राप्त होगा. उदासीनता को त्याग कर धैर्यपूर्वक कार्य करें. समाधान निकलेगा. मित्र बर्ग द्वारा विशष सहयोग मिलेगा पारिवारिक चिन्ता बनी रह सकती है.धन का आवागमन ठीक रहेगा.

सितम्बर- यह मास कुछ विशेषता लायेगा, समय आपके साथ है. पगति के साधन प्रसस्त होगें परिवार मे चहु ओर से खुशी का दरिया बहेगा लम्बी यात्रा सफल होगी, नवीन वाहन के क्रय के लिये यह मास शुभ रहेगा. माता पिता की ओर से विशेष कर उनके स्वास्थ्य के सम्बध मे चिन्ता रहेगी.विद्यार्थी वर्ग महनत का फल मिलने से प्रसन्नता का अनुभव करेगा.

अक्टूवर- पदोन्नति के नये अवसर मिलेगे नये कार्यो मे दिलचस्पी बढेगी. आपकी निराशा आशा मे परिवर्तित होगी. ता १८ के बाद विरोधी पक्ष के साथ समझौता हो सकता है. लम्बी यात्रा करना हितकर होगी मित्र वर्ग आपके सहयोग का आभार मानेगे. खर्च ज्यादा रहने से आर्थिक समस्या हो सकती है. सन्तान पक्ष से खुशी मिलेगी.भाग्य का सितारा साथ देगा.

नवम्वर- इस महीने का ग्रह गोचर शुभ फल से बना है सभी बिगडे हुये कार्य बन जायेगे. घर मे खुशी का महौल रहेगा. कोई शादी विवाह का आयोजन मासान्त मे हो सकता है. इस मास राज्य योग बनता है। समय का सदुपयोग करे . ऐसा समय बार बार नही आयेगा. सभी कार्यो मे सफलता थोडे से प्रयास से मिल सकेगी. ऐसा ग्रहो का संकेत है.

दिसम्वर- यह मास आपके लिये अधिकांशतः मिश्रित फल लेकर ही आयेगा. वैवाहिक अड्चने समाप्त होगी. आपकी योजना कार्यान्वित होने से उत्साह होगा, कोई अप्रिय समाचार मिल सकता है. मन मे उदासीनता रहेगी क्रोध के कारण कोई बनता बनता कार्य रुक सकता है अतः क्रोध पर काबू रखे . मुकदमे वाजी से छुट कारा मिल जायेगा.

More from: Jyotish
17430

ज्योतिष लेख