Entertainment RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

'क्या हुआ तेरा वादा' से लेकर छोटे पर्दे कई सीरियलों में 'लीप ईयर'

leap year in many serial on small screen

5 दिसम्बर 2012
 
नई दिल्ली।  2012 लीप ईयर है और जहां तक छोटे पर्दे की बात है यह इस पर भी लागू हो रही है। चर्चित धारावाहिक 'पवित्र रिश्ता', 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' और 'क्या हुआ तेरा वादा' की कहानी कुछ सालों के लिए आगे बढ़ रही है।


जीटीवी पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक 'पवित्र रिश्ता' की कहानी सोमवार को छह महीने के लिए आगे बढ़ाई गई और इसी तरह 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' पांच साल के लिए बढ़ा दी गई। जबकि 'क्या हुआ तेरा वादा' की कहानी 15 साल के लिए आगे बढ़ा दिए जाने की सम्भावना है।


जीटीवी के एक अन्य धारावाहिक 'हिटलर दीदी' सितम्बर महीने में आठ साल के लिए आगे बढ़ गई और 'लाइफ ओके' चैनल का धारावाहिक 'दिल से दी दुआ सौभाग्यवती भव:' की कहानी लगभग सात साल के लिए बढ़ा दी गई।


'परिचय: नई जिंदगी के सपनो का' के कलाकार समीर सोनी का कहना है कि इस तरह के उपाय अपनाने के पीछे दर्शकों के मन में उत्सुकता पैदा करना होता है।


समीर ने आईएएनएस से कहा, "यह कुछ समय के लिए फंसाए रखता है, लेकिन जैसे ही कार्यक्रम लगातार चलने लगता है, दर्शकों को उसके मुताबिक खुद को ढालना होता है।"


उन्होंने कहा, "अगर यह सही चलता है तो यह कार्यक्रम 90 फीसदी तक सफल साबित होती है। अंतत: आप उन्हीं किरदारों को नए कलेवर में देखते हैं।"


'पवित्र रिश्ता' और 'उतरन' जैसे धारावाहिक की कहानी आगे बढ़ जाने से इसकी टीआरपी को ठीक करने में मदद मिली।


'वैदेही' , 'झांसी की रानी' और 'मैं लक्ष्मी तेरे आंगन की' में काम कर चुकी प्रसिद्ध अभिनेत्री अरुणा ईरानी का मानना है कि जब दर्शक एक ही तरह की चीजें देखकर ऊबने लगते हैं तो लेखक के लिए कहानी में बदलाव लाना जरूरी हो जाता है।

 

More from: Entertainment
33988

ज्योतिष लेख