Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

मेलबर्न में दिखेगा 'कहानी','तेरी मेरी कहानी' का जलवा

in melbourne will look action of kahani andtere mere kahani

 2 जून 2012

 नई दिल्ली। मीतू भौमिक लेंज आने वाले मेलबर्न भारतीय फिल्म   महोत्सव (आईएफएफएम) के माध्यम से ऑस्ट्रेलिया में 'कहानी' और 'तेरी मेरी कहानी' जैसी नए दौर की भारतीय फिल्मों के प्रदर्शन के लिए तैयार हैं। मीतू की माने तो भू-परिदृश्यों की बड़ी संख्या ऑस्ट्रेलिया को शूटिंग के लिहाज से फिल्म निर्माताओं के लिए अनुकूल बनाती है। आईएफएफएम की महोत्सव निदेशक मीतू एक दशक से ऑस्ट्रेलिया में रह रही हैं और उनका कहना है कि यहां के अधिकारी बहुत मिलनसार हैं। हालांकि शूटिंग कार्यक्रम पहले से तैयार कर यहां आना समझदारी है।

मीतू ने मेलबर्न से एक ईमेल साक्षात्कार के माध्यम से आईएएनएस को बताया, "ऑस्ट्रेलिया में सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाता है। मैं उन्हें सख्त नहीं मानती लेकिन फिल्म निर्माताओं को शूटिंग कार्यक्रम तैयार कर संगठित तरीके से आना चाहिए ताकि उन्हें सभी प्रकार की अनुमतियां मिल जाएं और वे बिना किसी बाधा के शूटिंग कर सकें।"

उन्होंने कहा, "यह फिल्मों के लिए बहुत अनुकूल देश है और यहां के सभी राज्यों में अपने फिल्म कार्यालय है, जो बहुत मददगार हैं।"

ऑस्ट्रेलिया अपने पुराने समुद्र तटों, हरे-भरे वर्षा वनों, बंजर रेगिस्तानों और पथरीली पर्वत श्रृंखलाओं के कारण फिल्म निर्माताओं को बहुत आकर्षित करता है।

माइंड ब्लोइंग फिल्म्स कम्पनी की मालिक मीतू के ऑस्ट्रेलिया प्रवास के दौरान वहां 'सलाम नमस्ते', 'चक दे इंडिया', 'बचना ए हसीनों' और 'लव आज कल' जैसी कई भारतीय फिल्मों का निर्माण हुआ।

वह बीते दो वर्षो से फिल्म महोत्सव का आयोजन कर रही हैं। उन्हें 11-22 जून तक आयोजित महोत्सव के तीसरे संस्करण के लिए विक्टोरिया राज्य सरकार से भी मदद मिल गई है।

इस बारह दिवसीय महोत्सव के दौरान 'कहानी', 'माइकल', 'देहली बेली', 'उरूमी', ऑस्कर विजेता पाकिस्तानी वृतचित्र 'सेविंग फेस' और श्रीलंकाई फिल्म 'छत्रक' का प्रदर्शन किया जाएगा। महोत्सव का समापन रितुपर्णो घोष की 'मेमरिज इन मार्च' से होगा। वहीं कुणाल कोहली की 'तेरी मेरी कहानी' का इस मौके पर विश्व प्रीमियर होगा।


 

More from: samanya
31024

ज्योतिष लेख