Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

बेंगलुरू में भाजपा की सरकार बचाने के प्रयास जारी

in banglore save the efforts bjp goverment


30 जून 2012

बेंगलुरू।  कर्नाटक में पूर्व मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा के वफादार नौ मंत्रियों ने शनिवार को उनकी मुख्यमंत्री डी.वी. सदानंद गौड़ा को हटाने की अपनी मांग से पीछे हटने से इंकार कर दिया। इन नौ मंत्रियों ने शुक्रवार को राज्य मंत्रिमंडल से अपना इस्तीफा दे दिया था।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव व राज्य में पार्टी के प्रभारी धर्मेद्र प्रधान इस मुद्दे पर सुलह कराने की दृष्टि से शनिवार को बेंगलुरू पहुंचे लेकिन उन्हें इसमें सफलता नहीं मिली।

जल संसाधन मंत्री बासवराज बोम्मई ने पत्रकारों से कहा, "हमारी मांग है कि सदानंद गौड़ा की जगह पर ग्रामीण विकास मंत्री जगदीश शेट्टार को मुख्यमंत्री बनाया जाए। हम इस मांग से पीछे नहीं हटेंगे।"

शेट्टार और बोम्मई उन नौ मंत्रियों में शामिल हैं जिन्होंने शुक्रवार रात गौड़ा को इस्तीफे सौंप दिए। अन्य मंत्रियों में सी.एम. उडासी (लोक निर्माण कार्य), मुरुगेश निरानी (उद्योग), वी. सोमण (आवास), उमेश कट्टी (कृषि), रेवू नाइक बेलामागी (पुस्तकालाय और पशुपालन) व एम.पी. रेणुकाचार्य (उत्पाद शुल्क) शामिल हैं।

बोम्मई व उडासी पार्टी की राज्य इकाई में जारी उथल-पुथल के लिए गौड़ा को जिम्मेदार ठहराते हैं। उन्होंने कहा कि गौड़ा खुद को जिस तरह से पेश कर रहे थे, उससे भरोसा कम हुआ और मंत्रियों ने इस्तीफे दिए।

प्रधान ने बेंगलुरू पहुंचने के तुरंत बाद राज्य भाजपा अध्यक्ष के.एस. ईश्वरप्पा से मुलाकात की। ईश्वरप्पा ने कहा "इस्तीफे स्वीकार किए जाने का कोई सवाल ही नहीं है।"

इसके बाद उन्होंने नौ मंत्रियों व येदियुरप्पा के वफादार विधायकों से मुलाकात की। वह शनिवार शाम तक गौड़ा व उनके समर्थकों से बात करेंगे।

 

More from: samanya
31577

ज्योतिष लेख