Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

बारिश से मानसून के पहले मिली राहत

from rain before monsson found relief


7 जून 2012

नई दिल्ली। भले ही उत्तर भारत में मानसून नहीं आया है लेकिन कई स्थानों पर छिटपुट बारिश और बादल छाने के कारण लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत जरूरत मिली है। गुरुवार को अधिकतम तापमान में दो से पांच डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई। हालांकि उत्तर प्रदेश एवं बिहार में गर्मी से लोगों को राहत नहीं मिली है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गुरुवार की सुबह खुशनुमा रही। न्यूनतम तापमान औसत से एक डिग्री नीचे 26.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिन में कहीं-कही हल्की बारिश हुई।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने बताया, "दिन में हल्की बारिश होने या बौछारें पड़ीं। अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के आसपास था।" सुबह 8.30 बजे आद्र्रता 46 प्रतिशत दर्ज की गई। बुधवार को दिल्ली में 0.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। बुधवार को अधिकतम व न्यूनतम तापमान औसत से दो डिग्री नीचे क्रमश: 38.7 व 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

उत्तर प्रदेश में लोगों को अभी प्रचंड गर्मी और लू के थपेड़ों से राहत मिलने की सम्भावना नहीं है। अगले कुछ दिनों में मौसम में किसी तरह के बदलाव की उम्मीद नहीं है। गुरुवार को लखनऊ का न्यूनतम तापमान करीब 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की सम्भावना है।

मौसम विभाग के मुताबिक अगले 48 घंटे के दौरान प्रदेश में आसमान साफ रहेगा और मौसम में किसी तरह के बदलाव की सम्भावना नहीं है। उत्तर प्रदेश मौसम विज्ञान विभाग के निदेशक जे.पी. गुप्ता के मुताबिक लोगों को अभी गर्मी और लू के थपेड़ों से राहत नहीं मिलेगी। बुधवार को वाराणसी का अधिकतम तापमान 44.5 डिग्री सेल्सियस, राजधानी लखनऊ का 42 डिग्री, इलाहाबाद का 45.3 डिग्री सेल्सियस, आगरा का 41.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

केरल में सक्रिय हुए मानसून ने मध्य प्रदेश के मौसम का मिजाज भी बदल दिया है। कई स्थानों पर बूंदाबांदी व बारिश से तापमान में गिरावट आई है और लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली है।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार राज्य की राजधानी भोपाल, इंदौर, छतरपुर सहित कई हिस्सों में बीते 24 घंटो के दौरान बूंदाबांदी हुई वहीं जबलपुर में 1़ 4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। मौसम में आए बदलाव से राजधानी के तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई और अब अधिकतम तापमान 36़ 1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है। इसी तरह राज्य के अन्य हिस्सों के तापमान में भी एक से दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट हुई है।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक आगामी 24 घंटों में राज्य के कई हिस्सों में बूंदाबादी और बारिश हो सकती है।

गर्मी की मार झेल रहे बिहारवासियों को गुरुवार को भी राहत मिलने की सम्भावना नहीं है। राज्य के गया जिले में तो सुबह का तापमान 32 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है। भीषण गर्मी से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार गुरुवार सुबह गया का तापमान 31.9 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है जबकि पटना में 28.6 डिग्री, भागलपुर में 28.4 डिग्री और पूर्णिया में 27 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के निदेशक ए.के. सेन ने बताया कि अगले एक-दो दिनों में अधिकतम तापमान 40 से 44 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की सम्भावना है। पछुआ हवाएं चलने के कारण हवा में तेज गर्मी बनी रहेगी।

 

More from: samanya
31116

ज्योतिष लेख