Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

चिदम्बरम के इस्तीफे को लेकर संसद की कार्यवाही बाधित

chidambarams resignation disrupted the proceedings of the parliament

16 दिसम्बर 2011

नई दिल्ली।  केंद्रीय गृह मंत्री पी. चिदम्बरम के इस्तीफे की मांग को लेकर विपक्षी सदस्यों ने संसद के दोनों सदनों में शुक्रवार को जमकर हंगामा किया, जिसके कारण महत्वपूर्ण प्रश्नकाल स्थगित करना पड़ा।

लोकसभा और राज्यसभा के पीठासीन अधिकारियों ने हंगामे के कारण दोनों सदनों की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित कर दी। चिदम्बरम पर एक होटल व्यवसायी के खिलाफ आपराधिक मामले वापस लेने का आरोप है। चिदम्बरम 1999 में उक्त व्यवसायी के वकील थे।

राज्यसभा में सभापति हामिद अंसारी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्यों को शांत करने की कोशिश की और उनसे कहा कि एक पूर्व सांसद के लिए शोक प्रस्ताव पढ़ने के बाद प्रश्नकाल चलने दिया जाए। लेकिन सदस्यों ने अंसारी का अनुरोध अनसुना कर दिया और उन्हें शोक प्रस्ताव भी नहीं पढ़ने दिया। इस पर अंसारी नाराज हो गए।

अंसारी ने कहा, "यदि आप आपस में एक-दूसरे का सम्मान नहीं कर सकते तो कम से कम दिवंगत सदस्य का तो सम्मान कीजिए।" अंसारी की इस बात पर सदन में थोड़ी शांति हुई।

सांसदों ने दिवंगत पूर्व सदस्य के लिए खड़े होकर कुछ समय के लिए मौन रखा। लेकिन मौन के तत्काल बाद शोरशराबा फिर शुरू हो गया। अंसारी ने कहा, "चूंकि प्रश्नकाल नहीं हो सकता, लिहाजा सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक स्थगित की जाती है।"

यही स्थिति लोकसभा में भी रही। इसके कारण लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने भी दोपहर तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। इसके पहले भाजपा ने गुरुवार को दिन भर सदन की कार्यवाही नहीं चलने दी थी। भाजपा चिदम्बरम पर आरोप लगा रही है कि उन्होंने सनएयर होटल्स प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष एवं अपने पूर्व मुवक्किल, एस.पी. गुप्ता के पक्ष में अपने पद का दुरुपयोग किया है।

More from: samanya
27517

ज्योतिष लेख