Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

ब्रैट ली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

brait lee say good bye to international cricket

13 जुलाई 2012

सिडनी।  आस्ट्रेलिया के 35 वर्षीय तेज गेंदबाज ब्रैट ली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास से लिया है। शुक्रवार सुबह अपने इस फैसले की जानकारी लोगों को देते हुए उन्होंने सोशल नेटवर्किग साइट पर ट्वीट किया, मैं अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले रहा हूं। क्रिकेट में बिताए पिछले 13 साल काफी बेहतरीन रहे। मुझे प्यार और समर्थन देने के लिए शुक्रिया।

टेस्ट क्रिकेट से फरवरी 2010 में ही रिटायर होने वाले ली अभी आस्ट्रेलिया की ओर से एकदिवसीय और ट्वेंटी-20 मैच खेल रहे थे।

आस्ट्रेलियाई मीडिया की खबरों के मुताबित ली अपने घरेलू ट्वेंटी-20 टूर्नामेंट बिग बैश और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलना जारी रखेंगे।

ली ने चैनल नाइन को बताया कि उनका 13 साल का करियर सपनों सरीखा रहा और वह इससे ज्यादा और कुछ और अपेक्षा नहीं रख सकते थे।

उन्होंने कहा, अब समय आ गया है कि मैं क्रिकेट को अलविदा कहके युवा खिलाड़ियों को टीम में आने का मौका दूं।

उन्होंने कहा कि वह बहुत खुश हैं कि उन्हें शेन वार्न, ग्लेन मैक्ग्राथ एडम गिलक्रिस्ट और अपने लड़कपन के दिनों के हीरो स्टीव वा और मार्क वा के साथ खेलने का मौका मिला।

वह कहते हैं, अब मेरी जिंदगी का दूसरा भाग शुरू हो रहा है और मैं बहुत ही खुश और उत्साहित हूं।

ली ने बताया कि 2003 में आस्ट्रेलिया का विश्वकप जीतना और टेस्ट मैच में बनाई गई हैट्रिक उनके करियर के सबसे यादगार क्षण हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि वह वर्ष 2005 में एजबेस्टन में एशेज टेस्ट में महज दो रन से इंग्लैंड के हाथों मिली हार को भी कभी भुला नहीं पाएंगे।

ली को पाकिस्तान के गेदबाज शोएब अख्तर के साथ दुनिया का सबसे तेज गेदबाज माना जाता था।

ली ने अपना टेस्ट करियर वर्ष 1999 में एमसीजी में बॉक्सिंग डे मैच के साथ शुरू किया था और आखिरी टेस्ट भी इसी मैदान पर 2008 में खेला।

उन्होंने अपने पहले ही ओवर में भाारतीय सलामी बल्लेबाज सदागोप्पन रमेश को बोल्ड करके अपने करियर का पहला विकेट लिया था।

ली ने कुल 76 टेस्ट खेले, जिसमें उन्हें 310 विकेट मिले। उन्होंने 221 एकदिवसीय मैचों में कुल 380 विकेट लिए। वह आस्ट्रेलिया के लिए ग्लेन मैक्ग्राथ के बाद दूसरे ऐसे गेंदबाज बने, जिसने टेस्ट और एकदिवसीय दोनों संस्करणों में 300 से ज्यादा विकेट लिए हों।

 

More from: samanya
31813

ज्योतिष लेख