Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

बांदा के गांव में पुलिस की 'शैतान चौकी'!

12 मई 2012
 
बांदा। उत्तर प्रदेश की सरकार बदली तो बहुत कुछ बदल गया है। बांदा जनपद के एक गांव में 'शैतान चौकी' तक संचालित हो गई है। इस कथित चौकी में रोजाना पुलिस का एक सिपाही हाजिरी देने पहुंचता है और दिनभर कमाई करने के बाद वास्तविक सरकारी पुलिस चौकी ओरन में अपनी वापसी दर्ज कराता है।

बांदा जनपद के बिसंडा थाना अंतर्गत पांच हजार की आबादी वाले चौसड़ गांव के पूर्वी छोर में सड़क के किनारे पुरानी होली के पास दूर संचार विभाग के एक जर्जर भवन में बाकायदा एक साइनबोर्ड लगा है, जिसमें 'शैतान चौकी' लिखी है। इस बोर्ड में बतौर शैतान चौकी प्रभारी 'पिंकी खान' का नाम दर्ज है। इस कथित चौकी में सुबह से शाम तक युवाओं की 'अथाई' लगती है। इतना ही नहीं, यहां रोजाना बिसंडा थाने की ओरन पुलिस चौकी में तैनात संतोष मिश्रा नामक सिपाही अपनी हाजिरी देता है।

गांव के पूर्व दलित ग्राम प्रधान लोटन राम ने बताया, "सिपाही व इस चौकी के गैर सरकारी प्रभारी पिंकी खान आने-जाने वाले वाहनों को रोककर जांच-पड़ताल करते हैं और अवैध तरीके से वसूली करते हैं।"

तेंदुरा गांव के सज्जन सिंह ने बताया कि वह अपने निजी ट्रैक्टर से भूसा लेकर अतर्रा जा रहा था तो इस कथित चौकी में मौजूद सिपाही ने शुक्रवार को पांच सौ रुपये जबरन वसूल लिए।

ओरन पुलिस चौकी के प्रभारी उपनिरीक्षक मथुरा प्रसाद चौबे का कहना है, "इस सिपाही को रोजाना ग्रामीण क्षेत्र में गश्त पर भेजा जाता है और शाम को उसकी वापसी दर्ज की जाती है।" उन्होंने कहा कि यदि ग्रामीणों के आरोप सत्य पाए गए तो उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजी जाएगी।

उधर, बांदा के अपर पुलिस अधीक्षक स्वामी प्रसाद ने कहा, "यह बेहद गम्भीर मामला है। बबेरू के पुलिस क्षेत्राधिकारी (सीओ) कृष्णचंद्र सिंह को जांच सौंप दी गई है। रिपोर्ट प्राप्त होते ही दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।"

More from: samanya
30707

ज्योतिष लेख