Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

शाहरुख, सलमान, आमिर ने सिनेमा को आगे बढ़ाया : बच्चन (साक्षात्कार)

amitabh-bachchan-bollywood-15042014
15 अप्रैल 2014
नई दिल्ली|
महानायक अमिताभ बच्चन पूरी दुनिया घूमे हैं और दुनियाभर की प्रतिष्ठित फिल्म हस्तियों से मिले हैं। वह भारतीय फिल्मों की बढ़ रही पहुंच से खुश हैं। उनका कहना है कि शाहरुख खान, आमिर खान और सलमान खान सरीखे सितारे विश्व स्तर पर अपनी क्षमता साकार करने और इसे दुनिया में आगे बढ़ाने का श्रेय पाने के हकदार हैं।

यकीनन सत्यजीत रे, बिमल रॉय और मृणाल सेन सरीखे फिल्मकार साथ ही साथ राज कपूर जैसे कलाकारों ने भी अपनी कलाकारी या कौशल से आगे बढ़ते हुए दुनियाभर के दिलों में अपनी जगह बनाई, लेकिन मौजूदा समय में भारतीय फिल्मों (हिंदी एवं क्षेत्रीय) की दृश्यता सबसे ऊपर दिखती है।

भारतीय फिल्में न केवल अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सवों में जगह पा रही हैं बल्कि पेरु, पनामा और मोरक्को जैसे गैर-पारंपरिक बाजारों में भी इनकी रिलीज की संख्या बढ़ रही है।

71 वर्षीय बच्चन ने यहां एक साक्षात्कार में आईएएनएस को बताया, "अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय सिनेमा में दिलचस्पी दिखना बहुत खुशी की बात है।"

बीते समय को सोचते हुए उन्होंने कहा, "कई वर्षो पूर्व जब मैंने शुरुआत की तो उस समय आज की तरह फिल्मों की मार्केटिंग या प्रचार नहीं हुआ करता था। हम इन बाजारों के बारे में नहीं जानते थे..हमें कभी अहसास नहीं हुआ कि बाहरी देशों के लोग एक हिंदी या कोई भी भारतीय फिल्म देखना चाहेंगे।"

उन्होंने कहा, "लेकिन जब यह एक बार शुरू हुआ तो हमें इसे देख रहे लोगों की संख्या के महत्व का अहसास हुआ।"

बिग बी ने वर्ष 1969 में फिल्म 'सात हिंदुस्तानी' से फिल्मों में कदम रखा। वह 1980 और 1990 के दशक में लंदन के वेंब्ले और न्यू जर्सी में दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियम में प्रस्तुति देना याद करते हैं।

बॉलीवुड के 'एंग्री यंग मैन' के नाम से मशहूर बच्चन ने आईएएनएस को बताया, "लेकिन कहीं न कहीं हमारे तुरंत बाद आई पीढ़ी के शाहरुख, सलमान, आमिर और फिल्मकार करण जौहर ने भी इस क्षमता को अंतर्राष्ट्रीय जगत में आगे बढ़ाया। इसलिए अगर आप पहचान बनाने का श्रेय देना चाहते हैं तो आपको इन लोगों को श्रेय देना चाहिए।"

उन्होंने कहा कि यह 'कभी खुशी कभी गम' सरीखी फिल्म की वजह से है, जो पश्चिमी जगत में एक प्रतिष्ठित फिल्म बन गई। इसने पाया कि विदेशों में भारतीय फिल्मों के लिए संभवनाएं हैं।

बच्चन को जुलाई के अंत में मेलबर्न अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में शामिल होना है। उन्होंने कहा, "शाहरुख जर्मनी में उतने ही लोकप्रिय हैं, जितने यहां। ऋतिक रोशन, सलमान और आमिर को भी बराबर अनुपात में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्यार मिलता है। तो जाहिर तौर पर भारतीय सिनेमा बढ़िया चल रहा है।"
More from: samanya
36692

ज्योतिष लेख