Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

अक्षय कुमार की जिंदगी में आरव के मायने

akshay kumar s life in meaning of aarav


21 जुलाई 2012

मुंबई। सितम्बर 2009 में एक जींस के प्रमोशन के लिए मुम्बई में रैम्प पर हसीनाओं के साथ शर्टलैस उतरे अक्षय कुमार और एक सैक्सी परफॉर्मेंस के साथ जब वो मुड़े तो कैमरे ठहर गए उनकी पीठ के एक टैटू पर, जिस पर गुदा था ‘आरव’। सितम्बर के एक ही हफ्ते में अक्षय और उनके बेटे आरव का जन्मदिन पड़ता है और बेटे को गिफ्ट देने के उनके इस अंदाज की काफी चर्चा हुई। इतना ही नहीं अक्टूबर में रिलीज हुई उनकी फिल्म ‘ब्लू’ में भी उनके करेक्टर का नाम आरव ही था।
 

बेटे के लिए अक्षय का प्यार उनकी बिल्डिंग वालों ने तब भी देखा, जब एक रोज एक सिक्योरिटी गार्ड ने उनके बेटे के साथ बदतमीजी की, तो अक्षय ने उसके थप्पड़ रसीद कर दिया। एक इंटरव्यू में अक्षय से पूछा गया कि बेटे को क्या बनाना चाहते हैं? तो अक्षय ने कहा कि कोई सर पर गन लगाकर भी पूछेगा तो मैं कहूंगा ‘स्पोर्टसमेन’, लेकिन हकीकत में मैं और टिवंकल उसके पसंदीदा कैरियर में हर तरह की मदद करेंगे। तभी दस साल के आरव को अक्षय को किक बॉक्सिंग से लेकर मार्शल आर्ट तक हर टफ गेम की अभी से ट्रेनिंग दे रहे हैं। लेकिन इसके लिए अक्की उसके पढ़ाई और होमवर्क से समझौता नहीं करते। वैसे दुनियां का ऐसा कोई भी एडवेंचर स्पोर्टस नहीं बचा होगा, जिससे उन्होंने आरव को रूबरू ना करवाया हो। मौका मिलने पर बाप-बेटे क्रिकेट में भी हाथ आजमाते हैं। ऐसे में आरव के लिए भी जबरदस्त चुनौती है कि जब मम्मी, पापा, नाना, नानी सभी बॉलीवुड से ताल्लुक रखते हों और वो इसके ग्लेमर से बचकर अपनी पढ़ाई ढंग से करके किसी और फील्ड को बतौर कैरियर तबज्जो दे पाए।

More from: samanya
31963

ज्योतिष लेख