Jyotish RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

नाम बदलने से बदलेगा स्टार न्यूज : ज्योतिषीय विश्लेषण

abp news astro prediction

पं.हनुमान मिश्रा

न्यूज चैनल्स की लगातार बढ़ती संख्या के बीच स्टार न्यूज का एबीपी न्यूज बन जाना आम दर्शकों को कितना रास आएगा, ये आने वाला वक्त ही बताएगा लेकिन आज की तारीख में चुनावी सीजन न होने के बावजूद एक नारा लोगों के बीच काफी लोकप्रियता बटोर रहा है वो है- ''स्टार न्यूज अब एबीपी न्यूज बन गया और नाम बदलने से कुछ नहीं बदलता''। हो सकता है इस बात में दम हो, लेकिन हम ज्योतिषियों के नजरिए से तो यह एक बहुत बडा बदलाव है। एबीपी न्यूज वालों का ये कहना कि "सिर्फ नाम बदला है और कुछ नही" हमारी जमात को हज़म नहीं हो रहा है। नाम को सिर्फ नाम कहना हमारे नजरिए से उचित नहीं है। ज्योतिष की एक विधा है अंक ज्योतिष, इसकी माने तो नाम बदलने से किस्मत में बहुत बडा बदलाव आता है। वैसे तो बहुत सारे लोग इससे सहमत भी हैं और इसका लाभ भी ले रहे हैं लेकिन फ़िल्म इंडस्ट्री के लोग तो इस विधा के बहुत ही दीवाने हैं वहां तो 10 में से 7 लोगों से अपना नाम या नाम की स्पेलिंग बदल रखी है। यही नहीं न्यूज इंडस्ट्री के कई लोग भी इससे सहमत हैं ऐसे में इनका ये कहना कि "सिर्फ नाम बदला है और कुछ नही" और "नाम बदलने से कुछ नहीं बदलता'' कुछ हज़म नहीं हो रहा है। मैं यह नहीं कह रहा कि नाम बदलने से इन्हें कोई नुकसान होगा। मैं केवल इतना कह रहा हूं कि नाम बदलने से फर्क तो पडता है। हो सकता है कि इन्होंने जो नाम बदला है उससे इन्हें फायदा हो और यह देश और दुनिया का नम्बर वन चैनल हो जाय। क्योंकि "एबीपी न्यूज" नाम नें लोकप्रियता तो बहुत हासिल की है। जगह-जगह इसकी होर्डिंग्स और तमाम माध्यमों से हम तक पहुंचे इसके विज्ञापन नें लोगों का दिल तो जीता ही है। तभी तो फेसबुक पर इसे पसंद करने वालों की संख्या 99 हजार के आस पास है। हालांकि हमारे यहां 99 के फेर को बहुत उलझाऊ माना गया है लेकिन यह दो मंगल प्रधान अंकों का भी सूचक है। खैर यदि मुद्दे की बात की जाय तो मुद्दा यही है कि क्या यह चैनल अपना नाम बदल कर, अपना लोगो बदल कर अपनी पहले जैसी छवि कायम रख पाएगा? या उससे बडा ओहदा प्राप्त करेगा? या फिर कुछ और परिणाम इसकी झोली में आएंगे। आइए जानते हैं अंक ज्योतिष और वैदिक ज्योतिष दोनो के माध्यम से।

अंक ज्योतिष मे नजरिए से देखें तो स्टार न्यूज का नामांक 2 होता है जो 4, 6 और 9 का मित्र अंक है। 4 का अंक राहू का माना गया है जो प्रचार-प्रसार और विस्तार का ग्रह है, 6 का अंक शुक्र का अंक है जो लोगों को आकर्षित करने और लोकप्रिय बनने में सहायक होता है। 9 का अंक मंगल का है जो ऊर्जावान बनाता है और अपना दबदवा कायम रखने का हौसला देता है। नामांक 2 चंद्रमा का अंक है जिससे पता चलता है कि यहां काम करने वाले लोगों के भीतर सृजनात्मक क्षमता खूब होगी। इस चैनल के भीतर लोगों की भावनाओं को छूने की योग्यता होगी।

यदि "एबीपी न्यूज" के नामांक की बात की जाय तो इसका नामांक 3 है। जो बृहस्पति का अंक है और दर्शाता है कि इसके पीछे बडे अनुभवी लोगों का हांथ है। चीजों को व्यवस्थित करना इन्हें बखूबी आता है। यह चैनल बहुत ठोस और अहं मुद्दों को उठाने का काम करेगा। इनके कामों से परिपक्वता झलकेगी। 1, 5, 6, 7, 8 और 9 इसके मित्र अंक हैं जबकि 2 और 4 शत्रु अंक हैं। 1 अंक सरकार या किसी राजनेता के समर्थन का संकेतक है, 5 पत्रकारिता, 6 लोकप्रियता, 9 दबदबे के संकेतक हैं जबकि 7 और 8 अडचनों और कुछ हद तक असंतोष, निरर्थक हस्तक्षेप और विखंडन के संकेतक हैं। अर्थात कुछ परेशानियों को झेलकर यह चैनल अपनी अलग पहचान बना सकता है। इन्हें अपने नाम के साथ-साथ काम करने के कुछ तरीकों में भी बदलाव करने होंगे। क्योंकि नामांक 2 वाले स्टार न्यूज का 3 अंक शत्रु अंक होता है। अत: स्टार न्यूज की तरह परंपरागत तरीके से काम करना "एबीपी न्यूज" के लिए फायदेमंद नहीं रहेगा।

अब वैदिक ज्योतिष के माध्यम से मुहूर्त की ओर चलते हैं। प्राप्त जानकारियों के अनुसार 31 मई और 1 जून की दरम्यानी रात को चैनल अपना नाम और लोगो बदल रहा है। भले ही लोगों के द्वारा इसके लोगो को बहुत सराहना न मिली हो लेकिन वास्तु या आकृति शास्त्र के अनुसार यह उन्नति और आगे बढने का संकेत दे रहा है। लेकिन जिस समय नाम और लोगो में बदलाव किया जा रहा है वह सही नहीं है। 1 जून  को 00:00:01 बजे कुम्भ लग्न उदय हो रहा है। लग्नेश शनि आठवें भाव में है, जो ठीक स्थिति नहीं है। चन्द्रमा भी आठवें भाव में शनि के साथ है जो कि दिशा हीनता का संकेतक है। कार्य या मान प्रतिष्ठा या ऊंचे पदों पर बैठे लोगों के स्थान का स्वामी मंगल सप्तम भाव में है, जो कि प्रतिद्वंदी का भाव माना जाता है। अत: चैनल के कुछ मूर्धन्य लोग प्रतिद्वंदी चैनल्स में अपनी सेवाएं देना शुरू कर सकते हैं। चतुर्थ भाव में बैठे पांच ग्रह दसम भाव को प्रभावित करते दिख रहे हैं। साथ ही मंगल शनि की दृष्टि भी दसम भाव पर है। राहू दसम में बैठा ही है। इसतरह से देखा जाय तो दसम भाव पर आठ ग्रहों का प्रभाव है। यह स्थित या तो सर्वोच्च पद देगी अथवा कहीं और विलोपन या बडी परेशानियों की संकेत है। उस समय चित्रा नक्षत्र है जो कि मंगल का नक्षत्र है और मंगल दसम भाव का स्वामी है यह एक अच्छी स्थिति कही जा सकती है। दशाओं को देखकर भी लगता है कि  तीन से छह महीने चैनल के लिए कुछ उथल पुथल भरे हो सकते है। न केवल स्क्रीन पर दिखने वाले बल्कि तकनीकी व अन्य विभागों के लोग भी परिवर्तित हो सकते हैं। इस प्रकार देखा जाय तो नाम बदलने से किसी और का कुछ बदला हो या न बदला हो "एबीपी न्यूज" का जरूर बदल सकता है।

 

More from: Jyotish
30958

ज्योतिष लेख