Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

मेरे पिता से बेहतर नहीं हैं ओबामा : उमर बिन लादेन

umar-bin-laden-son-of-osama-bin-laden-05201111

11 मई 2011

वाशिंगटन। आतंकवादी संगठन अलकायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन के पुत्र उमर बिन लादेन ने दावा किया है कि अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा उसके पिता से बेहतर नहीं हैं।

उसने कहा कि उसके पिता को निष्पक्ष मुकदमे का अवसर उपलब्ध कराए बगैर मौत के घाट उतार दिया गया और परिवार के सदस्यों को अंतिम संस्कार करने से वंचित रखा गया।

उमर, लादेन के करीब 24 बच्चों में से है और अपने पिता की हिंसक कारगुजारियों का विरोध करता आया है लेकिन मंगलवार को उसने कहा, "जिस तरह मैं अपने वालिद की निंदा करते आया हूं उसी तरह अब मैं निहत्थे पुरुषों और औरतों को मौत के घाट उतारने का हुक्म देने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति की निंदा कर रहा हूं।"

'न्यूयार्क टाइम्स' को भेजे बयान में उमर ने कहा कि वह गत दो मई के एबटाबाद हमले के बारे में कुछ प्रश्नों का उत्तर चाहता है।

उमर ने कहा कि सबसे पहले तो वह उसके भाई-बहन अपने पिता लादेन के मारे जाने का सबूत चाहते हैं। उसने कहा, "शव, तस्वीरों और वीडियो प्रमाण के अभाव वाले सबूतों से वे संतुष्ट नहीं हैं।"

इसके अलावा वह और उसके भाई बहन जानना चाहते है, "एक निहत्थे शख्स को गिरफ्तार करके उसके खिलाफ अदालत में मुकदमा क्यों नहीं चलाया गया ताकि सच्चाई दुनिया के सामने आ जाती।"

उमर ने कहा कि इराक के पूर्व राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन के खिलाफ मुकदमा चलाया गया था। उसने कहा,"सिर्फ अंतर्राष्ट्रीय कानून का ही सीधे तौर पर उल्लंघन नहीं किया गया है बल्कि अमेरिका ने एक बिल्कुल अलग किस्म की मिसाल भी कायम की है जहां निष्पक्ष मुकदमे की सुनवाई का अधिकार और अदालत में जुर्म साबित होने तक बेगुनाह समझने के सिद्धांत की अनदेखी की गई।"

"हमारा मानना है कि मनमाने ढंग से हत्या करना किसी भी राजनीतिक मसले का हल नहीं है।"

उमर ने जोर देकर कहा, "वह हमेशा हर तरह की हिंसा को लेकर अपने पिता से असहमत रहा और हमेशा अपने पिता को संदेश भेजते रहा कि वह अपने तरीके बदले और किसी भी हालात में कोई आम इंसान हमले का शिकार न बनने पाए।"

उमर ने अपने प्रश्नों के जवाब 10 दिन के भीतर मांगे हैं और कहा है कि वह ब्रिटिश वकीलों की एक समिति को इसी काम में लगा रहा है। उसने कहा कि यदि इन प्रश्नों के जवाब न मिले तो वह अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय का रुख करेगा।

उमर और उसकी मां नज्वा बिन लादेन ने 2009 में 'ग्रोइंग अप बिन लादेन' लिखी थी और वे दोनों ही अमेरिका पर 11 सितम्बर हमलों से दो दिन पहले ही सीरिया चले गए थे।

इस बीच अमेरिका के उपराष्ट्रपति जो बिडेन ने उमर द्वारा लादेन की मौत को गैरकानूनी करार देने वाली टिप्पणी बारे में पूछे जाने पर कहा, "क्या आप मजाक कर रहे हैं?"

More from: samanya
20642

ज्योतिष लेख