Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

उत्तर भारत में गर्मी से परेशानी

problem from heat in north india

  
19 मई 2012
 
नई दिल्ली। पारा चढ़ने के कारण पूरा उत्तर भारत इन दिनों कड़ी धूप से तप रहा है। हालांकि शनिवार को कुछ स्थानों पर तापमान में उतार-चढ़ाव दर्ज किया गया। लेकिन पारा 40 डिग्री के आसपास रहने से लोगों को राहत नहीं मिलती दिख रही है। शुक्रवार को इलाहाबाद देश का सबसे गर्म स्थान रहा। यहां अधिकतम तापमान 46.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली में शनिवार सुबह न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 29 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने बताया, "यहां का अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा।" सुबह 8.30 बजे 39 फीसदी आर्द्रता दर्ज की गई। शुक्रवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान 27.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

उत्तर प्रदेश के सभी हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है। हालांकि तापमान में थोड़ी गिरावट आई है लेकिन पारा लगातार 40 डिग्री सेल्सियस के ऊपर बना हुआ है, जिससे सुबह से ही धूप और गर्म हवाएं लोगों को झ्झुलसा रही हैं। इलाहाबाद में शुक्रवार को अधिकतम तापमान 46.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

शनिवार सुबह राजधानी लखनऊ का न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से करीब एक डिग्री अधिक है। अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के आसपास दर्ज होने की सम्भावना व्यक्त की गई है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि राजस्थान से आ रही धूल भरी पछुआ हवाओं के कारण तापमान बढ़ रहा है।

हालांकि बीते 24 घंटों के दौरान अधिकतम तापमान में हल्की गिरावट दर्ज हुई है। बांदा का अधिकतम तापमान 44.0 डिग्री सेल्सियस, इलाहाबाद का 43.3 डिग्री सेल्सियस, इटावा का 43.8 डिग्री सेल्सियस और राजधानी लखनऊ का 40.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

पटना सहित बिहार के करीब सभी इलाकों में पिछले एक सप्ताह से गर्मी का दौर जारी है। हालांकि शुक्रवार को तापमान में हल्की कमी दर्ज की गई थी। स्थानीय मौसम विभाग के अनुसार शनिवार सुबह पटना और भागलपुर का न्यूनतम तापमान 28-28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि गया का न्यूनतम तापमान 27.9 डिग्री सेल्सियस और पूर्णिया का 26.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

गया शुक्रवार को राज्य का सर्वाधिक गर्म स्थान था, जहां का अधिकतम तापमान 40.7 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया, जबकि गुरुवार को यह 44.9 डिग्री सेल्सियस था। पटना का शुक्रवार को अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि भागलपुर का अधिकतम तापमान 37.6 डिग्री सेल्सियस था।

पटना मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक ए़ क़े सेन ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में हवा का दबाव बनने की संभावना है, जिसे शनिवार को बिहार पहुंचने की उम्मीद है। इस दबाव के कारण ही तापमान में शुक्रवार को गिरावट दर्ज की गई थी, जो आज भी बना रहेगी। उन्होंने कहा कि कुछ क्षेत्रों में बारिश भी होने का अंदेशा है।


 

More from: Khabar
30804

ज्योतिष लेख