Samanya RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

फिल्‍मी दुनिया के अनमोल सितारे धर्मेद्र को फाल्के रत्न पुरस्कार

lalke-ratna-award-to-dharmendra-04201121

21 अप्रैल 2011

नई दिल्ली। तीन दशकों तक फिल्‍म इंडस्‍ट्री में शीर्ष अभिनेता के रूप में बने रहकर धर्मेंद्र ने हिट फिल्‍मों की एक लंबी पारी खेली। बचपन में फिल्‍मों में अभिनय का जो सफर शुरू हुआ वह आज भी उसी उर्जा के साथ पर्दे पर नजर आता है।

अपनी पहली फिल्‍म 'दिल भी तेरा हम भी तेरे' में उन्‍होंने बलराज साहनी, उषा किरण और कुमकुम जैसे कलाकारों के साथ काम किया लेकिन इसे विडंबना ही कहेंगे कि इतने कठिन परिश्रम और संघर्ष के बावजूद धर्मेंद्र पर इस फिल्‍म में किसी का ध्‍यान ही नहीं गया। इसके बाद धर्मेंद्र कुछ महिला प्रधान फिल्‍मों जैसे 'सूरत और सीरत', 'मैं भी लड़की हू', 'बंदिनी' और 'अनपढ़' जैसी फिल्‍मों में नजर आए। लेकिन इन सब के बीच 'फुल और पत्‍थर' उनके लिए सबसे बडी हिट साबित हुई जिसने उन्‍हें वास्‍‍तविक मायनों में उम्‍दा दर्जे के अभिनेताओं की कतार में ला खड़ा किया। इस फिल्‍म के लिए धर्मेंद्र को सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता के कैटेगरी में भी नॉमिनेट किया गया था।

सफलता का जो दौर यहां से शुरू हुआ उसके बाद धर्मेंद्र ने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा। फिल्‍मी पर्दे पर उन्‍होंने कई आला दर्जे की अभिनेत्रियों जैसे मीना कुमारी, सायरा बानो, मुमताज़, शर्मिला टैगोर, परवीन बॉबी और ज़ीतन अमान के साथ यादगार फिल्‍में दी। उस दौर की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी और धर्मेंद्र ने दर्शको को अपनी हसीन और रोमांटिक जोड़ी से परिचित कराया। 'राजा जानी', 'सीता और गीता', 'ड्रीम गर्ल', 'शराफत', 'तुम हसीन मैं जवान', 'आज़ाद', 'तीसरी आंख्‍ा', 'शोले' और 'द बर्निंग ट्रेन' में इन दोनों की कैमिस्‍ट्री का ज़बरदस्‍त जादू चला।

एक लंबे समय तक फिल्‍मी पर्दे से दूर रहने के बाद जब धर्मेंद्र ने वापसी की तो 'प्‍यार किया तो डरना क्‍या', 'लाइफ इन ए मैट्रो', 'अपने' और 'यमला पगला दिवाना' जैसी हिट फिल्‍मों में चरित्र भूमिकाओं और जॉनी गद्दार में विलेन की भूमिका में भी जान डाल दी।

फिल्‍मी दूनिया के इस नगीने को उनके पांच दशकों से लम्बे अर्से के योगदान के लिए 'फाल्के रत्न' से सम्मानित किया जाएगा। 'फाल्के रत्न' दादासाहेब फाल्के अकादमी का सर्वोच्च सम्मान है।

मुम्बई में तीन मई को आयोजित एक समारोह में उन्हें यह सम्मान दिया जाएगा। धर्मेद्र अंतिम बार 'यमला पगला दीवाना' में नजर आए थे लेकिन वह अब भी फिल्मी दुनिया में सक्रिय हैं।

दादासाहेब फाल्के अकादमी के कार्यक्रम निदेशक अशोक शेखर ने बताया, "समारोह में प्रख्यात अभिनेत्री आशा पारेख को भी 'लीजेंड्री आइकन' अभिनेत्री के पुरस्कार से नवाजा जाएगा।"

कार्यक्रम में कई सितारे होंगे सम्‍मानित

कार्यक्रम में राजकुमार गुप्ता की फिल्म 'नो वन किल्ड जेसिका' में एक पत्रकार की बेहतरीन भूमिका निभाने के लिए रानी मुखर्जी को भी पुरस्कृत किया जाएगा। प्रियंका चोपड़ा को विशाल भारद्वाज की फिल्म '7 खून माफ' में यादगार अभिनय के लिए पुरस्कृत किया जाएगा।

बड़े पर्दे की नई लोकप्रिय जोड़ी रणबीर सिंह और अनुष्का शर्मा को 'बैंड बाजा बारात' में अभिनय के लिए सम्मानित किया जाएगा। निर्माता अरबाज खान को उनकी फिल्म 'दबंग' के सफल निर्माण के लिए सम्मानित किया जाएगा। यह अरबाज के निर्माण में बनी पहली फिल्म है।

 

More from: samanya
20190

ज्योतिष लेख