Khabar RSS Feed
Subscribe Magazine on email:    

जयगुरुदेव के निधन के बाद पहली गुरु पूर्णिमा का भंडारा ऐतिहासिक

jai gurudev bhandara historical
24 जून 2012

मथुरा स्थित जय गुरुदेव योग साधना मंदिर में आने वाले लाखों भक्तों को इस साल ऐतिहासिक भंडारा देखने को मिलेगा। जयगुरुदेव के निधन के बाद उनकी गद्दी संभालने वाले पंकज कुमार इस अवसर पर भक्तों को जयगुरुदेव के आखिरी वक्त के वचनों का प्रसाद भी वितरित करेंगे। 30 जून से 4 जुलाई तक चलने वाले गुरु पूर्णिमा के अवसर पर इस साल लाखों भक्तों की भीड़ जुटने की उम्मीद है।

जयगुरुदेव धर्म प्रचार संस्था के प्रवक्ता डॉ. के के मिश्र ने बताया कि 30 जून से 4 जुलाई तक चलने वाले इस गुरु पूर्णिमा समारोह में जयगुरुदेव के प्रति सच्ची श्रद्धा रखने वाले लाखों भक्तों को बाबा अपने निज धाम से ही आशीर्वाद देंगे। उन्होंने कहा, जयगुरुदेव ने अंतिम दिनों में यह कहा था कि मथुरा के इस पावन धरा पर भले ही मेरा शरीर न रहे पर इस पवित्र धरती पर मेरी आत्मा सदैव विराजमान रहेगी और यहां आने वाले श्रद्धालुओं पर आशीर्वाद बरसाती रहेगी। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं को भी पूरा यकीन है कि बाबा का आशीर्वाद भक्तों को उनके न होने के बावजूद मिलता रहेगा।

जयगुरुदेव धर्म प्रचारक मेला के प्रभारी चरण सिंह ने बताया कि जयगुरुदेव ने इस मथुरा के नाम योग साधना मंदिर को अपने चरण से पवित्र कर देश और विदेश के करोड़ों श्रद्धालों के लिए ऐसा पीठ का स्वरुव दे दिया है,जहां सदियों तक गुरुदेव की चमत्कारिक शक्तियां भक्तों का मार्ग दर्शन करती रहेंगी।

चरण सिंह ने बताया कि मेले का आयोजन हर साल की तरह ही भव्यता के साथ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बचपन से ही जय गुरुदेव की सेवा में अपना सर्वस्व लगा देने वाले पंकज कुमार नाम योग साधना मंदिर के अध्यक्ष के रुप में दायित्व संभालने के बाद पहली बार श्रद्धालुओं के बीच जय गुरुदेव की अंतिम इच्छाएं और उनके आशीर्वचनों को बांटेंगे।
More from: Khabar
31424

ज्योतिष लेख